पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

अंधेरगर्दी:अस्पताल में अंधेरे और गर्मी में बिलखते रहे नवजात, पंखी-गत्तों से हवा देती रहीं माताएं

जोधपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बनाड़ सीएचसी में रात को 6 घंटे रही बिजली गुल, करीब 50 गांव के मरीज आते हैं और रोजाना औसतन 10 प्रसव होते हैं
  • सीएचसी इंचार्ज ने कहा- जनरेटर में टेक्निकल फॉल्ट से हुई असुविधा, जबकि छह माह से बंद पड़ा है जनरेटर
Advertisement
Advertisement

बनाड़ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) में अव्यवस्थाओं का आलम है। यहां करीब 50 गांव के मरीज आते हैं और रोजाना औसतन 10 प्रसव होते हैं। इसके बावजूद सुविधाओं को लेकर कोई गंभीर नहीं है। गुरुवार को यहां देर रात 6 घंटे तक टेक्निकल फॉल्ट से बिजली गुल रही। अस्पताल में कबाड़ हुआ जनरेटर भी काम नहीं करने के कारण भर्ती 6 प्रसूताओं और उनके नवजात शिशुओं को अंधेरे और गर्मी में रहना पड़ा। ऐसे में गर्मी से बिलखते बच्चों को उनकी माताएं गत्तों से हवा करती रहीं। 

बार-बार शिकायतें मिलने पर बनाड़ रालोपा कार्यकर्ता राजेंद्र छबरवाल अस्पताल पहुंचे और अस्पताल प्रभारी को उपाय करने के लिए फोन किया, लेकिन अस्पताल प्रभारी डॉ. रवींद्र चौहान उन्हें ही अस्पताल से निकलने को कहने लगे। ऐसे में दोनों के बीच नोकझोंक हो गई। कोई व्यवस्था नहीं होने पर सीएमएचओ से बात की तो उन्होंने आश्वासन देते हुए आधे घंटे बाद बिजली व्यवस्था सुचारु करवाई।

यहां आए दिन इस तरीके की शिकायतें मिलती रही हैं। इस मामले में जोधपुर सीएमएचओ डॉ. बलवंत मंडा ने बताया कि रात को सूचना मिली थी कि बिजली नहीं है, ऐसे में बनाड़ प्रभारी को निर्देश दिए कि व्यवस्था सुचारु की जाए। इधर  भोपालगढ़ विधायक पुखराज गर्ग ने सीएमएचओ डॉ. मंडा से बात की। उन्होंने कहा कि अगर सोमवार तक व्यवस्थाएं सुचारू नहीं हुई तो धरना दिया जाएगा। 
बैटरी नहीं होने से शुरू नहीं हुआ जनरेटर
बनाड़ सीएचसी के प्रभारी डॉ. चौहान ने बताया कि काफी समय तक बिजली नहीं आई थी। इस दौरान जनरेटर को चालू करने की कोशिश की, लेकिन उसमें बैटरी नहीं होने की वजह से व्यवस्था नहीं कर पाए, अब भामाशाह से अस्पताल में इनवर्टर लगाया गया है। अब अव्यवस्था नहीं होगी। 

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - अपने जनसंपर्क को और अधिक मजबूत करें। इनके द्वारा आपको चमत्कारिक रूप से भावी लक्ष्य की प्राप्ति होगी। और आपके आत्म सम्मान व आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी। नेगेटिव- ध्यान रखें कि किसी की बात...

और पढ़ें

Advertisement