पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना:बाड़मेर में फिर से लागू होगा सात दिन का लॉकडाउन, जोधपुर में मिले 18 नए पॉजिटिव

जोधपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सिबॉलिक इमेज।
  • जोधपुर के पीपाड़ में मिले छह नए संक्रमित
Advertisement
Advertisement

बाड़मेर में गुरुवार को एक साथ 33 कोरोना संक्रमित मिलने के बाद जिला कलेक्टर ने शहरी क्षेत्र में सात दिन के लिए पूरी सख्ती के साथ एक बार फिर लॉकडाउन लागू करने का फैसला किया है। दूसरी तरफ जोधपुर को कोरोना से राहत मिलती नजर नहीं आ रही है। शुक्रवार दोपहर जिले में 18 नए रोगी सामने आ गए। इनमें से नौ जोधपुर शहर के और नौ ग्रामीण क्षेत्र से है।

इसके साथ ही जोधपुर में आज सबसे अधिक छह रोगी पीपाड़ से मिले है। इसके अलावा धुंधाड़ा, हरियाढाणा व खेजड़ला से एक-एक संक्रमित मिला है। जोधपुर शहर में नागौरी गेट व ऊंटों की घाटी से दो-दो, किला रोड, भील बस्ती सूरसागर, संजय गांधी कॉलोनी, गुरुओं का तालाब व रामेश्वर नगर से एक-एक संक्रमित मिला है।

इस तरह शहर में अब तक 2880 संक्रमित मिल चुके है। इसमें से 2437 को डिस्चार्ज किया जा चुका है। 56 जनों की मौत हो चुकी है। 369 एक्टिव केस में से 178 होम आइसोलेशन, 84 एम्स, 52 कोविड केयर सेंटर बोरानाडा में व 12 अन्य मरीज है। 

बाड़मेर में फिर से लॉक डाउन
बाड़मेर शहर में कल एक साथ 33 नए करोना संक्रमित सामने आने से हड़कंप मच गया। प्रशासन ने रात को प्रभावित क्षेत्रों में कर्फ्य लागू कर दिया। वहीं जिला कलेक्टर विश्राम मीणा ने आज अधिकारियों के साथ बैठक कर पूरे शहरी क्षेत्र में सात दिन के लिए एक बार पिर पूरी सख्ती के साथ लॉक डाउन लागू करने का फैसला किया। यह लॉक डाउन आज शाम सात बजे से लागू होगा।  

तीन दिन में पांच मौत
शहर काे जुलाई महीने में भी काेराेना से राहत नहीं मिली। दूसरे दिन गुरुवार को फिर एक बुजुर्ग महिला की मौत हो गई है। इस तरह तीन दिन में पांच जनों की मौत हो चुकी है। महात्मा गांधी अस्पताल में नागौरी गेट किला रोड निवासी 80 वर्षीय महिला गेना देवी पति लालचंद्र को दो-तीन दिन लगातार सांस लेने में दिक्कत के चलते 29 जून की शाम को भर्ती कराया गया था। महिला का दो बार सैंपल जांच के लिए भेजा गया। 29 जून का सैंपल रिजेक्ट हो गया ताे 1 जुलाई को फिर सैंपल लिया गया, जिसकी रिपोर्ट दो जुलाई को पॉजिटिव मिली और दोपहर डेढ़ बजे दम ताेड़ दिया। उनकाे काॅर्निकल ऑर्टरी डिजीज और कार्डियक डिजीज थी।  

एमडीएम कोरोना मरीज मुक्त
संभाग का सबसे बड़ा अस्पताल कहलाने वाला मथुरादास माथुर अस्पताल कोरोना मुक्त है। पिछले 6 दिन से यहां कोरोना का एक भी मरीज भर्ती नहीं है। 21 मार्च को पहला मरीज पाॅजिटिव आने के बाद पूरा अस्पताल आमजन के लिए बंद कर दिया था। अब बिना किसी भय के आमजन इलाज के लिए यहां आने लगे हैं। कोरोना विंग बने सुपरस्पेशिएलिटी विंग में अब ग्रेस्टो और न्यूरोलॉजी के मरीजों को देखा जा रहा है। हालांकि कोरोना के बढ़ते कहर को देखते हुए जनाना विंग को खाली रखा गया है। यदि कोरोना का कोई मरीज अस्पताल आता है तो यहीं भर्ती किया जाएगा। एमडीएमएच में 25 जून से 1 जुलाई तक कोई नया पॉजिटिव भर्ती नहीं हुआ।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - अपने जनसंपर्क को और अधिक मजबूत करें। इनके द्वारा आपको चमत्कारिक रूप से भावी लक्ष्य की प्राप्ति होगी। और आपके आत्म सम्मान व आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी। नेगेटिव- ध्यान रखें कि किसी की बात...

और पढ़ें

Advertisement