पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • Not Even A Single Day In My Mind Thought That I Had A Corona, Ate A Lot Of Pudding And Laps In The Hospital And Kept The Promise Made To The Family By Being Happy

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना से जंग:मन में एक दिन भी यह नहीं सोचा कि मुझे कोरोना है, अस्पताल में खूब हलवा-लापसी खाई और खुश रहकर परिजनों से किया वादा निभाया

शेरगढ़7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शेरगढ़ के पहले मरीज से जानिए...उन्होंने किस तरह कोरोना को हराया

शेरगढ़ के मोतीजी दर्जियों की प्याऊ देवीगढ़ निवासी दलाराम पुत्र हमीराराम अहमदाबाद (गुजरात) में कपड़े के होलसेल व्यापारी हैं। 2 मई को पत्नी व बच्चे के साथ घर आए तो उन्हें लगा कि हल्का बुखार है तो जांच कराई जाए। जांच में वे पॉजिटिव आ गए। रिपोर्ट आने के साथ ही उन्हें जोधपुर ले गए। परिजन परेशान हो गए लेकिन माता-पिता को भरोसा दिलाया कि उसे कुछ नहीं होगा। वह ठीक है। वे भरोसे पर खरे उतरे और कोराेना को हराकर घर लौटे। दलाराम बताते हैं कि उन्होंने एक दिन भी यह नहीं सोचा कि उसे कोरोना है।
सदैव खुशमिजाज रहे और अस्पताल में हलवा और लापसी खाने के लिए देते थे तो रामरसोड़े की भी याद आ जाती। उन्हें लगा ही नहीं कि वह हॉस्पिटल में है, जैसे अपने घर में ही हों। फोन पर भी परिजनों से बात करते और अहमदाबाद में रसोड़ा चला रहे दोस्तों से भी रोज बात करते। कभी तनाव नहीं लिया। यही वजह रही कि उन्होंने आसानी से कोरोना को मात दे दी। घर पहुंचे तो ग्रामीणों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा और प्रशासनिक अधिकारी भी स्वागत करने पहुंचे। 
अहमदाबाद में रसोड़े के लिए सब्जी लाने गए, संभवत वहीं संक्रमित हुए
उन्होंने बताया कि बाजार में सब्जी लाने गए उसी दिन शायद कोरोना का संक्रमण हो गया। 2 मई को वे अपनी पत्नी गीता पुत्र हरिओम के साथ अपने गांव देवीगढ़ आए तब उन्हें हल्का बुखार था जिस पर उन्होंने अपने माता-पिता को दूर से ही प्रणाम किया। दूसरे दिन अस्पताल में दिखाया तब उन्होंने कहा कि वे कोरोना हॉट स्पॉट अहमदाबाद से आए हैं। तब उन्हें जोधपुर रेफर कर दिया।

पॉजिटिव आने के बाद कमला नेहरू नगर स्थित संतराम लोरी हॉस्पिटल में भर्ती किया। जहां घर जैसा खाना, तीन सब्जी, कभी हलवा, लापसी, फल व सलाद आदि भी खिलाते थे। पीने के लिए गर्म पानी। डॉक्टर दिन में दो बार उनकी जांच करने आते रहे। फोन पर भी उनके स्वास्थ्य के हाल-चाल जानते थे। वहां उन्हें कभी लगा ही नहीं कि वह अस्पताल में है। ऐसी सेवा की गई जिसके कारण रिपोर्ट निगेटिव आई। 
घर शास्त्रों का अध्ययन कर रहे 
उनके घर पहुंचने पर शेरगढ़ के उपखण्ड अधिकारी डॉ. मनोज खेमादा, विकास अधिकारी डॉ.दीपक कुमार शर्मा, ब्लॉक सीएमएचओ डॉ.जोगेश्वर प्रसाद नारवारा ने उन्हें फूल दिए। ताली बजाकर स्वागत किया। अब वे 14 दिन के लिए होम अण्डर क्वॉरेंटाइन हैं। पत्नी व पुत्र भी होम अण्डर क्वॉरेंटाइन हैं। सभी अलग अलग कमरों में रह रहे हैं। दलाराम गरुड़ पुराण व दुर्गा सप्तशती का पाठ कर रहे हैं। उन्होंने आमजन से आह्वान किया है कि कोरोना से डरने की बजाय जागरूक रहें। घर से न निकलें। सोशल डिस्टेंस रखें। लक्षण दिखे तो तुरंत जांच कराएं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। इस समय ग्रह स्थितियां आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही हैं। आपको अपनी प्रतिभा व योग्यता को साबित करने का अवसर ...

और पढ़ें