पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना की दूसरी लहर:जोधपुर में खतरनाक रफ्तार से बढ़ने लगी संक्रमितों की संख्या, एक ही दिन में सामने आए 172 नए मरीज

जोधपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राज्य सरकार के निर्देश के बावजूद राज्य के बाहर से RT-PCR टेस्ट रिपोर्ट के बिना आने वालों के खिलाफ नगर निगम ने सख्त कार्रवाई का अभियान शुरू किया है। - Dainik Bhaskar
राज्य सरकार के निर्देश के बावजूद राज्य के बाहर से RT-PCR टेस्ट रिपोर्ट के बिना आने वालों के खिलाफ नगर निगम ने सख्त कार्रवाई का अभियान शुरू किया है।
  • इस माह में अब तक मिल चुके हैं 1173 संक्रमित

रंगों के पर्व होली की खुशियों के बीच खतरनाक रफ्तार से फैल रहे कोरोना ने लोगों को सहमा दिया है। जोधपुर में एक बार फिर कोरोना की दूसरी लहर देखने को मिल रही है। जोधपुर में रविवार को इस वर्ष के रिकॉर्ड 172 नए संक्रमित सामने आए। इनमें से 120 शहरी क्षेत्र से और शेष ग्रामीण क्षेत्र से है। यह लगातार पांचवां दिन है जब कोरोना संक्रमितों का शतक लगा है।

जोधपुर शहर में कोरोना की रफ्तार का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि महज 9 दिन में ही 839 नए मरीज मिल चुके हैं। इस अवधि में सात लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। नए संक्रमितों की संख्या बढ़ने के साथ ही डिस्चार्ज होने वाले मरीजों की संख्या लगातार कम होती जा रही है। इस माह में अब तक सिर्फ 156 मरीज ही डिस्चार्ज हुए हैं।

मार्च माह के पहले 28 दिन में संक्रमितों की कुल संख्या 1173 तक जा पहुंची है। यह संख्या जनवरी व फरवरी में मिले कुल मरीजों से भी अधिक है। जनवरी में पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 967 और फरवरी में यह आंकडा महज 375 का था। इधर, जनवरी से अब तक डिस्चार्ज का आंकड़ा जो पॉजिटिव के आंकड़े से अधिक चल रहा था, वह गिर गया। इस वर्ष अब तक 34 संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है।

प्रशासन की सख्ती

राज्य सरकार के निर्देश के बावजूद राज्य के बाहर से RT-PCR टेस्ट रिपोर्ट के बिना आने वालों के खिलाफ नगर निगम ने सख्त कार्रवाई का अभियान शुरू किया है। ऐसे लोगों को होम क्वारैंटाइन किया जा रहा है। उत्तर निगम टीम ने मानजी का हत्था और पावटा क्षेत्र में बाहरी राज्यों से आने वाली निजी ट्रेवल्स की बसों के यात्रियों के RT-PCR टेस्ट रिपोर्ट की जांच की। जिन यात्रियों के पास RT-PCR टेस्ट की रिपोर्ट नहीं थी, उन यात्रियों को होम क्वारैंटाइन करने की कार्रवाई की गई, साथ ही निजी ट्रेवल्स संचालकों को भी हिदायत दी गई कि वे दूसरे प्रदेशों से आने वाले यात्रियों की यात्रा से पूर्व RT-PCR जांच रिपोर्ट अवश्य चैक करें।