पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • On The Third Day At The Roadways Bus Stand, There Was Chaos, The Government Claimed More Than 10 Thousand Students Were Sent By 250 Buses, But In Reality Some Were Hanging And Went By Many Other Means

पुलिस उप निरीक्षक भर्ती:रोडवेज बस स्टैंड पर तीसरे दिन भी अव्यवस्थाओं का आलम, सरकार का दावा- 250 बसों से 10 हजार से ज्यादा छात्र भेजे पर हकीकत में कुछ लटकते व कई अन्य साधनों से गए

जोधपुर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
साेशल डिस्टेंसिंग तो भूल ही गए। - Dainik Bhaskar
साेशल डिस्टेंसिंग तो भूल ही गए।

राजस्थान लोक सेवा आयोग की ओर से आयोजित पुलिस उप निरीक्षक भर्ती परीक्षा के तीसरे दिन मंगलवार को भी रोडवेज बस स्टैंड पर अव्यवस्थाओं का आलम रहा। परीक्षा खत्म होने के बाद में परीक्षार्थियों का रैला रोडवेज बस स्टैंड पर पहुंचा। शाम को 35 अतिरिक्त बसें भेजने के बाद में भीड़ खत्म नहीं हुई। पर्याप्त बसों की व्यवस्था नहीं होने से रात में अभ्यर्थियों ने हंगामा मचाना शुरू कर दिया।

रोडवेज अफसरों ने नियमित व अतिरिक्त बसों से अभ्यर्थियों को भेजने का आश्वासन दिया, तब जाकर वे शांत हुए। बुधवार को होने वाली परीक्षा के लिए मंगलवार रात को ही छात्रों का जाना शुरू हो गया तो मंगलवार को परीक्षा समाप्त होने के बाद छात्र रोडवेज बसों में सफर करने के लिए राइकाबाग रोडवेज बस स्टैंड पर आ गए थे।

छात्रों ने आरोप लगाया कि प्रशासन की ओर से पर्याप्त बसों की व्यवस्था नहीं करने से परीक्षार्थियों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ा। मंगलवार को रोडवेज ने 215 नियमित व 35 अतिरिक्त बसों में 10 हजार से अधिक छात्रों को भेजने का दावा किया।

वहीं रोडवेज बस स्टैंड पर आने वालों के साथ जाने वाले परीक्षार्थियों की भी भीड़ जुटी। रोडवेज की बसें नहीं मिलने से छात्र दूसरे साधन से जयपुर व अन्य जगह पर गए। रात में बसों में पैर रखने तक की जगह नहीं मिल रही थी। ऐसे में दूसरी सवारियों को भी खासा परेशान होना पड़ा।

रोडवेज बस स्टैंड पर मंगलवार को दिनभर अभ्यर्थियों की भीड़ रही। बसों में सीट के लिए जद्दोजहद के बीच कई खिड़कियों से घुसे तो कई लटकते गए।
रोडवेज बस स्टैंड पर मंगलवार को दिनभर अभ्यर्थियों की भीड़ रही। बसों में सीट के लिए जद्दोजहद के बीच कई खिड़कियों से घुसे तो कई लटकते गए।

इतने संसाधन नहीं हैं कि सभी को भेजा जा सके

रोडवेज के मैनेजर ट्रैफिक उम्मेदसिंह ने बताया कि रोडवेज के पास इतने संसाधन नहीं हैं कि सभी को भेजा जा सके। मंगलवार को उदयपुर, जयपुर, हनुमानगढ़, अलवर व बीकानेर सहित अन्य जगहों पर रोडवेज बसों में परीक्षार्थियों को रवाना किया गया। फिर भी बस स्टैंड पर भीड़ कम होने का नाम नहीं ले रही थी। रुटीन की बसों में भी परीक्षार्थियों को भेजा गया। उन्हाेंने बताया कि बुधवार व गुरुवार को भी अभ्यर्थियों के लिए बसों की व्यवस्था की गई है।

खबरें और भी हैं...