पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • One Committed Suicide By Talking To A Brother Living In Ahmedabad, The Other Locked The Children In The Room And Hanged Them With The Net Of The Gate.

मानसिक परेशानी के चलते युवकों ने दी जान:एक ने अहमदाबाद रहने वाले भाई से बात कर खुदकुशी की दूसरे ने बच्चों को कमरे में बंद कर गेट की जाली से लगाया फंदा

जोधपुर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बोरानाडा और लूणी थाना क्षेत्र में दो युवकों ने फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। एक ने घरेलू समस्या के चलते तो दूसरे ने मानसिक परेशानी में फंदा लगाया। पुलिस ने कार्रवाई के बाद शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया। बोरानाडा थानाधिकारी किशनलाल ने बताया कि मूलत: बाड़मेर में बीजराड स्थित गुमानों का तला हाल अभिषेक गार्डन के पीछे एक फैक्ट्री में काम करने वाले श्रमिक हुकमाराम (19) पुत्र मोतीराम मेघवाल ने खेजड़ी के पेड़ पर फंदा डालकर आत्महत्या कर ली।

वह अपनी घरेलू समस्या से परेशान था। परेशानी के चलते वह कई बार घर पर भी फोन कर हालात बताता था। फंदा लगाने से पहले भी उसने अपने अहमदाबाद में रहने वाले भाई से बात की। फोन पर उसने यह भी बताया कि वो मरने वाला है। तब उसके भाई ने यहां रहने वाले चचेरे भाई को फोन कर उसके पास जाने को कहा, लेकिन वो पहुंचा तो वो फंदे से लटका मिला। वह यहां पर अपने चाचा और भाई के साथ फैक्ट्री में ही रहता था। शव को कार्रवाई के बाद परिजन को सौंप दिया गया।

38 साल का युवक, आत्महत्या का कारण पता नहीं

इसी प्रकार लूणी थानाधिकारी परमेश्वरी ने बताया कि भटिंडा निवासी अशोक पुत्र भंवरलाल गर्ग ने मर्ग की रिपोर्ट दी। इसमें बताया कि उसके 38 साल के भाई नरेश ने मानसिक परेशानी के चलते फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। उसने बच्चों को एक कमरे में बंद कर दिया। फिर घर के बाहर लगी बड़ी जालीवाले गेट पर फंदे लगाया। आत्महत्या का कारण सामने नहीं आया। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

खबरें और भी हैं...