पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना संक्रमित आसाराम:दो दिन गांधी अस्पताल में रखने के बाद सुरक्षा कारणों से कराया एम्स जोधपुर में भर्ती, देर रात अस्पताल तक पहुंच गए थे समर्थक, पुलिस ने खदेड़ा

जोधपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अस्पताल में भर्ती आसाराम। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
अस्पताल में भर्ती आसाराम। (फाइल फोटो)

जोधपुर जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहे कोरोना संक्रमित आसाराम को शुक्रवार देर रात महात्मा गांधी अस्पताल से AIIMS, जोधपुर में शिफ्ट किया गया। आसाराम की तबीयत स्थिर बनी हुई है। उसे बेहतर इलाज के अपेक्षा सुरक्षा कारणों से AIIMS भेजा गया है। एम्स की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के कारण आम आदमी का अंदर प्रवेश करना संभव नहीं है। ऐसे में आसाराम के समर्थकों की भीड़ को नियंत्रित करने में सुविधा रहेगी।

महात्मा गांधी अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित आसाराम की सेहत स्थिर बनी हुई थी। उसका ऑक्सीजन लेवल वेंटिमास्क के साथ 90 से ऊपर बना हुआ था। अन्य सभी पैरामीटर सामान्य बने हुए थे। इसके बाद शुक्रवार रात करीब सवा दस बजे उसे AIIMS ले जाया गया। अब उसका इलाज AIIMS में किया जाएगा।

नाबालिग से यौन उत्पीड़न का मामला

नाबालिग छात्रा के यौन उत्पीड़न मामले में आजीवन कारावास की सजा भुगत रहे आसाराम की अन्य बंदियों के साथ सैंपल लिया गया था। तीन दिन पूर्व वह कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। उसका ऑक्सीजन लेवल लगातार गिरता देख 2 दिन पहले जेल प्रशासन उसे महात्मा गांधी अस्पताल लेकर आया था। तब से वह यहां भर्ती था। अस्पताल में सामान्य नजर आ रहे आसाराम ने एक बार दवा लेने से मना कर दिया था, लेकिन बाद में डॉक्टरों के समझाने पर मान गया था। डॉक्टरों का कहना है कि उसकी सेहत में धीरे-धीरे सुधार हो रहा है। चिंता जैसी कोई बात नहीं है।

समर्थकों पर सख्ती

आसाराम के समर्थकों के साथ पुलिस शुक्रवार को काफी सख्ती के साथ पेश आई थी। यही कारण रहा कि आज अस्पताल के बाहर उसका समर्थक नजर नहीं आया। पुलिस ने वहां बेवजह घूमने वालों को रवाना कर दिया। इसके बाद सुबह तक शांति बनी रही।

समर्थकों की उमड़ी भीड़:आसाराम की झलक पाने एमजीएच के बाहर उमड़ी भीड़, 2 महिलाओं को शांतिभंग में पकड़ा

खबरें और भी हैं...