एक खंडपीठ और 10 खंडपीठ का गठन:हाईकोर्ट जजों की सुनवाई के रोस्टर में 17 से आंशिक बदलाव

जोधपुर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रोस्टर में बदलाव किया गया - Dainik Bhaskar
रोस्टर में बदलाव किया गया

राजस्थान हाईकोर्ट जोधपुर मुख्यपीठ के जजों की सुनवाई के रोस्टर में बदलाव किया गया। नई व्यवस्था 17 जनवरी से लागू होगी। नए रोस्टर के अनुसार एक खंडपीठ और 10 खंडपीठ का गठन किया गया है। जस्टिस संदीप मेहता व जस्टिस विनोद कुमार भारवानी की खंडपीठ डीबी स्पेशल अपील, सिविल रिट, स्पेशल अपील्स, फैमिली कोर्ट से जुड़े मामले, अवमानना याचिका, जनहित याचिका, टैक्स के मामले, बंदी प्रत्यक्षीकरण, क्रिमिनल रिट आदि मामलों की सुनवाई करेगी।

इसी तरह जस्टिस विजय विश्नोई की एकलपीठ सीआरपीसी की धारा 482 के तहत विविध आपराधिक याचिका, एसबी क्रिमिनल रिट्स, जस्टिस अरुण भंसाली की एकलपीठ सिविल सर्विस रिट्स (वर्ष 2020 से), जस्टिस डॉ. पुष्पेंद्रसिंह भाटी सिविल मिसलेनियस रिट (2019 तक), कंपनी मैटर्स, जस्टिस दिनेश मेहता सिविल मिसलेनियस रिट (वर्ष 2020 से), सिविल अवमानना मामले, जस्टिस विनीत कुमार माथुर सीआरपीसी की धारा 438 तथा 439 के तहत जमानत याचिकाएं, आर्बिटेशन मेटर्स, जस्टिस मनोज कुमार गर्ग सिविल फर्स्ट व सैकंड अपील, सिविल रिवीजन, सिविल मिसलेनियस अपील आदि, जस्टिस देवेंद्र कच्छवाहा सीआरपीसी की धारा 438 तथा 439 के तहत जमानत याचिकाएं, जस्टिस रामेश्वर व्यास सीआरपीसी की धारा 438 तथा 439 के तहत जमानत याचिकाएं, जस्टिस मदनगोपाल व्यास क्रिमिनल अपील क्रिमिनल लीव टू अपील, क्रिमिनल रिवीजन्स व जस्टिस रेखा बोराणा सिविल सर्विस रिट्स (2019 तक) की सुनवाई करेंगे।

खबरें और भी हैं...