राजसमंद थाने का वांटेड गिरफ्तार:पुलिस पर फायर सहित आठ मामलों का आरोपी गिरफ्त में, लग्जरी कार में फर्जी नम्बर प्लेट के साथ घूम रहा था

जोधपुर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

राजसमंद में पुलिस पर फायर कर पुलिसकर्मियों को जान से मारने की नियत से वाहन चढ़ाने के आरोपी को जोधपुर पुलिस ने पकड़ा। जोधपुर के धायलों की ढाणी निवासी शंकरलाल को पुलिस ने नाकाबंदी कर पकड़ा। डांगियावास थाने में आरोपी पर आठ मामले दर्ज है।

जोधपुर कमिश्नरेट की स्पेशल क्राइम टीम ने बनाड थाना क्षेत्र में नाकाबंदी कर राजसमंद थाना के एक वांटेड बदमाश को गिरफ्तार किया है। आरोपी पर लूट, हत्या का प्रयास, पुलिस पर फायर करने सहित कुल आठ केस दर्ज हैं। आरोपी पुलिस की नम्बर प्लेट के लगा कर लग्जरी कार में घूम रहा था। पूछताछ में उसने बताया कि उसने गाड़ी रातानाडा थाने के सब इंस्पेक्टर पूनाराम से मांगकर लाई है। यह गाड़ी उनका बेटा उर्जाराम काम में लेता है। सीएसटी के प्रभारी निरीक्षक भरत रावत ने बताया कि गाड़ी पर कोटा जिला की नंबर प्लेट लगी हुई थी। जिसकी जांच में सामने आया कि वह नंबर प्लेट गलत थी। वो नंबर किसी एंडवेर गाडी के थे, जो कोटा निवासी के मोहम्मद साजिद के नाम रजिस्टर्ड है। गाड़ी में रखी नंबर प्लेट उदयपुर और जयपुर जिले की थी।

जिसमें उदयपुर की नंबर प्लेट जो नंबर थे, वे अभी तक किसी वाहन को जारी नहीं हुए है। जबकि जयपुर नंबर प्लेट की जांच करने पर पता चला कि कार का असली नंबर वही है, जो जयपुर के सांगानेर के बिलवा निवासी रामबीर सिंह गुर्जर के नाम रजिस्टर्ड है। सीएसटी प्रभारी का कहना है कि मामला बनाड़ थाने में दर्ज करवाया गया है। सब इंस्पेक्टर के बेटे से जुड़ी बात अनुसंधान में साफ होगी. जयपुर रजिस्टर्ड कार की चोरी की रिपेार्ट कहीं दर्ज नहीं है।

खबरें और भी हैं...