• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • Refusal To Lift The Dead Body, People Started Gathering In The Hospital, Four And A Half Thousand Scavengers Of The City Went On A Broom down Strike

लवली कंडारा एनकाउंटर:शव उठाने से इनकार, अस्पताल में जुटने लगे लोग, हड़ताल पर गए शहर के साढ़े चार हजार सफाईकर्मी

जोधपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मोर्चरी के बाहर एकत्र पुलिस बल। - Dainik Bhaskar
मोर्चरी के बाहर एकत्र पुलिस बल।

जोधपुर शहर में बुधवार शाम हुए एक एनकाउंटर में मारे गए हिस्ट्रीशीटर लवली कंडारा के शव को परिजनों ने उठाने से मना कर दिया है। परिजन पूरे मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग पर अड़े हुए है। वहीं इस एनकाउंटर के विरोध में शहर के सफाईकर्मियों ने झाड़ू डाउन हड़ताल कर दी है। दूसरी तरफ बड़ी संख्या में लोग मोर्चरी के बाहर एकत्र हो रहे है। अस्पताल परिसर में बड़ी संख्या में पुलिसबल तैनात किया गया है। पुलिस कमिश्नर जोस मोहन पूरे मामले की निगरानी कर रहे है।

शहर में बुधवार शाम सनसनीखेज घटनाक्रम में पुलिस ने हिस्ट्रीशीटर लवली कंडारा को जवाबी फायरिंग में मार गिराया। रातानाडा पुलिस को निजी कार में आते देख पांचबत्ती चौराहा से हिस्ट्रीशीटर लवली कंडारा साथियों संग एसयूवी में भागा। पुलिस ने पीछा किया तो बदमाशों ने सरे बाजार फायरिंग की। पुलिस पीछा करती रही। बदमाशों की एसयूवी सारण नगर पुलिया के पास पानी टंकी पहुंचा तो पुलिस ने जवाब में 8 राउंड फायर किए। इसमें हिस्ट्रीशीटर लवली कंडारा घायल हुआ। पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में लिया। बाद में अस्पताल में लवली की मौत हो गई।

कल रात से ही यह मामला राजनीतिक रूप लेना शुरू हो गया था। लवली के परिजनों की तरफ से उसकी बहन के ससुर व सफाई आयोग के पूर्व अध्यक्ष चंद्रप्रकाश टायसन ने मोर्चा संभाल रका है। पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के करीबी माने जाने वाले टायसन ने कल शाम से ही अपने समाज के लोगों को लामबंद करना शुरू कर दिया था। ऐसे में यह स्पष्ट हो गया था कि यह मामला आसानी से शांत नहीं होगा। आज थोड़ी देर में बड़ी संख्या में लोगों के मोर्चरी पहुंचने का अंदेशा है। ऐसे में मोर्चरी के बाहर बड़ी संख्या में पुलिस बल के साथ ही आला अधिकारी मोर्चा संभाले हुए है। पुलिस कमिश्नर स्वयं प्रयास कर रहे है कि मामला शांतिपूर्वक निपट जाए। ऐसे में कुछ पुलिस अधिकारियों को परिजनों के साथ वार्ता कर उन्हें राजी करने का प्रयास किया जा रहा है।

मृतक के परिजनों ने पुलिस पर फर्जी एनकाउंटर का आरोप लगा शव उठाने से इनकार कर दिया है। उन्होंने गोली चलाने वाले जिन पुलिसकर्मियों के बर्खास्तगी की मांग भी रखी है। मामले की जांच सीबीआई एवं रिटायर्ड जज से करवाने की मांग भी उठने लगी है। शहर के करीब साढ़े चार हजार सफाई कर्मियों ने आज झाडू डाउन हड़ताल शुरू कर दी। इस कारण शहर की सफाई व्यवस्था गड़बड़ा गई। फिलहाल अस्पताल परिसर में लोगों के जुटने का क्रम शुरू हो चुका है।