हादसे में किसान की मौत:सड़क किनारे खड़ा था, पास से निकलती क्रेन ने लिया चपेट में, लोगों ने रोका रास्ता

जोधपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो।

जोधपुर जिले के रणसी गांव में रविवार को खेजड़ला जाने वाली मुख्य सड़क पर केमिकल फैक्ट्री के किनारे खड़े 45 वर्षीय किसान रामसुख माली निवासी रणसी को हाइड्रो ने टक्कर मार दी। जिससे उनकी मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। घटना को लेकर मौके पर ग्रामीणों की भीड़ हो गई तथा विभिन्न मांगों को लेकर रास्ता जाम कर दिया। सूचना पर बिलाड़ा तहसीलदार, बोरुंदा व पीपाड़ पुलिस मौके पहुंची। पुलिस की समझाइश पर मौके से शव को हटाया तथा एवं जाम रास्ते को खोलते हुए यातायात को सुचारु किया।

इससे पहले सड़क दुर्घटना की सूचना आग की तरह गांव व आसपास के क्षेत्र में फैल गई। जिसे मौके पर सैकड़ों ग्रामीणों की भीड़ एकत्रित हो गई। मुख्य सड़क पर स्पीड ब्रेकर लगाने, मृतक के परिवार को आर्थिक सहायता व क्लेम दिलाने तथा आरोपी को तुरंत गिरफ्तार करने की मांग को लेकर शव उठाने से इनकार कर दिया। रणसी गांव व खेजड़ला जाने वाली मुख्य सड़क को जाम कर दिया। जिसे सड़क के दोनों और करीब आधा किमी सड़क पर वाहनों की कतार लग गई। वहीं, हादसे के बाद क्रेन चालक मौके से फरार हो गया।

जाब्ते सहित मौके पर पहुंची दो थानों की पुलिस, समझाइश के बाद रास्ता खुलवाया

पीपाड़ थानाधिकारी बाबूलाल राणा एवं बोरुंदा थाना प्रभारी अधिकारी मुकेश कुमार मीणा मय जाब्ता घटनास्थल पर पहुंचे। तहसीलदार ताराचंद प्रजापत ने ग्रामीणों की मांगों पर आश्वासन देने के बाद परिजनों एवं ग्रामीणों ने शव को मौके से हटाया गया। मृतक के भाई खेमाराम पुत्र रामपाल माली निवासी रणसी गांव ने पुलिस में रिपोर्ट देकर बताया कि उसका भाई रणसी गांव में निकला था। एक केमिकल फैक्ट्री के सामने एक तरफ खड़े थे उसी दौरान हाइड्रो चालक ने तेज व लापरवाही पूर्वक चलाते हुए उसे चपेट में ले लिया। उसके भाई को घसीटते हुए ले गया। सिर से टायर निकलने से मौके पर ही मौत हो गई। मामला दर्ज कर जांच मुख्य आरक्षी मनोज कुमार बेरवा ने विस्तृत जांच शुरू की।

खबरें और भी हैं...