नियमों का नहीं हो रहा पालन:संडे को 10वीं-12वीं की क्लासें लीं, स्कूल संचालक बोला- क्या शेखावत-डोटासरा गाइडलाइन का पालन कर रहे?

जोधपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना महामारी के चलते राज्य सरकार ने सभी कोचिंग क्लासेज व स्कूलों में बच्चों की पढ़ाई बंद करने के आदेश दिए हैं, लेकिन कमला नेहरू नगर में श्री बालाजी पब्लिक सी.सै. स्कूल में रविवार को छुट्टी के दिन भी 10वीं और 12वीं की कक्षाएं संचालित हुईं। इस पर स्कूल संचालक उमेश चौधरी से पूछा तो कहा कि 10वीं कक्षा के कमजोर बच्चों को पढ़ाने बुलाना पड़ता है।

नियमानुसार रविवार को 12वीं की प्रैक्टिकल की परीक्षाएं नहीं ले सकते, लेकिन हम जरूरत पड़ने पर संडे को बच्चों को बुलाते हैं, इसलिए रविवार को भी बुलाया था। संचालक ने कहा कि जब शिक्षा मंत्री डॉ. गोविंद डोटासरा और केंद्रीय जलशक्ति मंत्री चुनावों में बिना मास्क के रैलियां कर रहे हैं, तो क्या वे कोरोना गाइडलाइन की पालना कर रहे हैं? वह तो सिर्फ रविवार को कक्षाएं संचालित कर रहा है।

दैनिक भास्कर टीम ने क्लास में जाने का प्रयास किया तो उसने बच्चों को भगा दिया। संडे के दिन छात्रों को सड़क पर भागते हुए देख लोग भी हैरत में पड़ गए। इधर, मौके पर प्रतापनगर थाने से पुलिस आई और कोई कार्रवाई करने की बजाय संचालक को डांटकर स्कूल बंद करवा दी।

वहीं मामले की गंभीरता को देखते हुए संयुक्त निदेशक स्कूल शिक्षा प्रेमचंद सांखला ने कहा कि उनके सामने जो साक्ष्य हैं, उनके आधार पर स्कूल संचालक ने बड़ी गलती की है। छुट्टी के दिन कोई भी बच्चों को वैसे भी नहीं बुला सकता। इसके लिए विभागीय जांच टीम गठित करके मामले की पड़ताल कर स्कूल संचालक के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही करेंगे।

मौके पर 9वीं का छात्र बोला- 12वीं में हूं
मौके पर टीम ने जब बच्चों से पूछा तो एक छात्र ने जाते समय 9वीं कक्षा में पढ़ना बताया। बाद में स्कूल संचालक ने उसके कंधे पर हाथ रखकर आंख दिखाई तो बच्चा बोला- वह तो 12वीं कक्षा में पढ़ता है।

खबरें और भी हैं...