पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

निजी कंपनी करेगी सर्वे:बनाड़ रोड पर बसी दर्जनों काॅलोनियों में पानी की पाइप लाइनाें के लिए हाेगा सर्वे

जोधपुर24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियंता ने अफसरों के साथ मौका मुआयना किया, योजना बनेगी

बनाड़ रोड पर उम्मेद होटल और पिलार बालाजी मंदिर के बीच में बसी दर्जनों कॉलोनियों में पानी की पाइप लाइनें व टंकी बनाने के लिए सर्वे किया जाएगा। सर्वे निजी कंपनी के माध्यम से जलदाय विभाग की तरफ से करवाया जाएगा। इसके लिए अधीक्षण अभियंता ने अफसरों के साथ इन कॉलोनियों का मौका मुआयना किया है। इसके बाद एक रिपोर्ट बनाई जाएगी जो राज्य सरकार को भेजी जाएगी। राज्य सरकार इसके लिए बजट जारी करेगी।

भास्कर के 30 जून के अंक में “बनाड़ क्षेत्र की 20 कॉलोनियों में दस साल से नहीं बिछी पानी की पाइप लाइनें, विभाग अब तक तय नहीं कर पाया कि यह शहरी क्षेत्र है या ग्रामीण’ प्रकाशित होने के बाद जलदाय विभाग के अफसर हरकत में आए। जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियंता हिमांशु गोयल ने बताया कि पिलार बालाजी मंदिर के आसपास के क्षेत्र में बसी कॉलोनियों में सबसे पहले पानी लाने के लिए निजी कंपनी से सर्वे करवाया जाएगा।

इसके बाद योजना बनेगी। इसकी स्वीकृति राज्य सरकार व मुख्यालय के स्तर से मिलेगी। अभी इन कॉलानियों का माैका देखा गया है। गौरतलब है कि क्षेत्र के रहने वाले सामाजिक कार्यकर्ता राजेन्द्र छबरवाल के नेतृत्व में दर्जनों लोगों ने जिला कलेक्टर से मिलकर पानी की समस्या का समाधान करने की मांग की थी।

20 कॉलोनियों के लिए पहले भी बनी थी योजना लेकिन नहीं हुआ काम
बनाड़ राेड उम्मेद हाेटल पिलार बालाजी मंदिर के आसपास 20 से अधिक कॉलाेनियां हैं। इसके लिए वर्ष 2019 में पानी की पाइप लाइनों के लिए योजना स्वीकृत की गई। कार्यदेश तक जारी हो गए पर काम नहीं हो पाया। क्षेत्रवासियों का कहना है कि एक टैंकर यहां पर एक हजार रुपए में खाली होता है। एक महीने में एक परिवार को तीन से चार टैंकर पानी अपने घरों में डलवाना पड़ता है। इसके चलते प्रतिमाह एक परिवार पर तीन-चार हजार रुपए का आर्थिक भार पड़ रहा है।
इन कॉलोनियों में पानी की समस्या
श्री बालाजी नगर, आदर्श नगर, महावीर नगर, इंद्रप्रस्थ नगर, सूर्य नगर, मदन मोहन विहार, बालाजी नगर, गिरजा नगर, शंकर नगर, साई दरबार नगर, श्रीराम नगर, रामदेव नगर, शिवाजी नगर, टुटु नगर, सरस्वती नगर, कायलाना नगर, श्री भगवती नगर, अरिहंत नगर, तिरुपति नगर, महादेव नगर, बसंत विहार नगर, शिव महादेव नगर, गजेन्द्र नगर, देव नगर, आदर्श नगर, आनंद नगर, प्रभात नगर, लक्ष्मी नगर एवं रामेश्वर नगर होटल के पीछे।

खबरें और भी हैं...