पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

करवड़ फ्लाईओवर पर लगे व्यू कटर:सेना ने कहा- इस पर कंटीले तार लगाकर ही खोलें

जोधपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जाेधपुर-नागाैर नेशनल हाईवे-62 पर करवड़ पर फ्लाईओवर बने 3 साल हो चुके हैं। हालांकि इस पर अब तक ट्रैफिक चालू नहीं हो पाया है। दरअसल पास ही स्थित सैन्य क्षेत्र के मद्देनजर सेना ने इस पर आपत्ति जताई थी। इसके बाद सेना के कहे अनुसार फ्लाईओवर पर व्यू कटर, यानी दृष्टि विरोधक शीट लगाने का काम पूरा हो गया है।

पीडब्ल्यूडी एनएच विंग के एक्सईएन मुकेश शर्मा का कहना है कि अब सेना की ओर से कहा गया कि व्यू कटर पर कंटीले तार लगाए जाएं। इसके बाद बाद ही यातायात शुरू किया जाए। अब जोधपुर जिला प्रशासन इसे शुरू करने की तैयारी में है। इस बारे में प्रशासन की सेना के साथ बातचीत हो रही है।

यहां हाईवे की स्थिति
10 करोड़ लागत से फ्लाईओवर फरवरी में तैयार हो गया था। फोरलेन प्रोजेक्ट के दो चरण पूरे हो चुके हैं। पहले चरण में यह 3 ओवरब्रिज और 28 किमी सड़क का निर्माण हुआ। फोरलेन पर यातायात पूरी तरह से शुरू हो चुका है। लेकिन इस ओवरब्रिज पर ट्रैफिक शुरू होना है।

क्यों जरूरत पड़ी
दरअसल इस फ्लाईओवर से तकरीबन सटता हुआ सैन्य क्षेत्र नागतालाब है। इस फ्लाईओवर से अंदर तक का नजारा दिखता है। सेना ने भी फ्लाईओवर का निर्माण पूरा होने के बाद आपत्ति जताई। इसके बाद यातायात शुरू नहीं हो सका था।

इतना समय क्यों लगा
मामला हाईकोर्ट में चला गया। सेना ने सुरक्षा को लेकर पक्ष पेश किया था। इस पर हाईकोर्ट की रोक के कारण फ्लाईओवर पर ट्रैफिक शुरू नहीं हो पाया है।

अब क्या स्थिति
सेना की आपत्ति के बाद 600 मीटर लंबे फ्लाईओवर के दोनों ओर 6-8 फीट हाइट की शीट लगाई गई हैं। इन पर 2.79 करोड़ रुपए खर्च हो चुके हैं। इसे मिलाकर इस फ्लाईओवर की लागत पौने तेरह करोड़ रुपए हो चुकी है। अब इन पर कंटीले तार लगाने की तैयारी है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपने अपनी दिनचर्या से संबंधित जो योजनाएं बनाई है, उन्हें किसी से भी शेयर ना करें। तथा चुपचाप शांतिपूर्ण तरीके से कार्य करने से आपको अवश्य ही सफलता मिलेगी। परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर ज...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser