पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चरण सिंह हत्याकांड:खून के छींटे न उछलें इसलिए पत्नी और साली ने ‌90 रूपए में स्टील काटने की खरीदी चकरी और 1200 रूपए में लिया कटर

जोधपुर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सभी आरोपियों को आज करेंगे कोर्ट में पेश

कृषि विभाग के एएओ चरणसिंह उर्फ सुशील जाट की जिस कटर और चकरी से काट कर हत्या कर दी थी, बनाड़ पुलिस ने मंगलवार को आरोपियों से उसकी तस्दीक करवाई। बनाड़ थानाधिकारी अशोक आंजणा ने बताया कि मामले में बबीता व प्रियंका ने हत्या से पहले एक दुकान से 1200 रुपए में कटर खरीदा था।

उसी दुकान से पत्थर काटने वाली चकरी की बजाय स्टील काटने वाली चकरी 90 रुपए में खरीदी थी। स्टील की इसलिए ताकि एएओ को काटने के दौरान खून के छींटे न उछलें। जबकि पत्थर काटने वाली चकरी से खून के छींटे अधिक उछलने का संदेह था। पुलिस ने दोनों बहनों द्वारा बताई दुकान पर जाकर कटर व चकरी खरीदने की तस्दीक की।

हत्यारी बहनों ने इसके बाद कटर व चकरी सहित खून से सने एक पायजामे को मंडोर थाना इलाके की हवेली रिसोर्ट के पास बने एक नाले में फेंक दिया था। जिस कटर से एएओ का शरीर काटा गया वह घटना से पहले दिन ही खरीद लिया था। दुकानदार से पूछताछ में सामने आया कि सुबह दस बजे दो लड़कियां आकर यह कटर खरीद कर गई थी। मामले में अब बुधवार को पुलिस सभी चारों अभियुक्तों को फिर कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लेगी।

बनाड़ थानाधिकारी अशोक आंजणा ने बताया कि नागौर जिले के खाखड़की निवासी कृषि विभाग के एएओ चरण सिंह उर्फ सुशील की हत्या की साजिश पूर्व नियोजित थी। हत्या के चारों अभियुक्त एएओ की पत्नी सीमा, उसकी सालियां बबीता व प्रियंका तथा साथी भींयाराम की रिमांड अवधि बुधवार को समाप्त हो रही है।

ऐसे में पुलिस उन्हें कोर्ट में पेश करेगी। मामले के अनुसार दस अगस्त को कृषि विभाग के एएओ चरण सिंह उर्फ सुशील जाट की हत्या की गई थी। शव को काटकर नांदड़ी सीवरेज ट्रीटमेंट की सीवर लाइन में दो बैगों में डालकर बहा दिया गया था। रात को ही उसी दिन पहचान हो गई थी। पुलिस ने गत गुरुवार को इस केस का खुलासा करते हुए पत्नी, दो सालियां व उनके एक साथी को हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया था।

खबरें और भी हैं...