पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

प्रयास-2021:बेहतर रिजल्ट के लिए परीक्षा से 1 माह पूर्व खत्म होगा कोर्स

जोधपुर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • शिक्षा विभाग ने बनाया कैप्सूल, बच्चों के प्रतिशत व अंकों में सुधार को लेकर कवायद शुरू

कोविड-19 के दस माह बाद अब प्रदेश की स्कूलों में प्रयास 2021 के माध्यम से परीक्षा परिणाम सुधारने की कवायद शुरू की गई है। पढ़ाई में कमजोर विद्यार्थियों पर फोकस करते हुए उन्हें बोर्ड परीक्षा में पास करने के साथ ही तृतीय और द्वितीय श्रेणी लाने वाले बच्चों काे प्रथम श्रेणी तक पहुंचाने का काम किया जाएगा। इसके लिए सीडीईओ से पीईईओ तक की जिम्मेदारी तय की गई है।

इसके अलावा सभी शिक्षा अधिकारियों काे ब्लॉक का आवंटन करते हुए उन्हें मॉनिटरिंग इंचार्ज बनाया है। अब 10वीं और 12वीं कक्षा में अध्ययनरत बच्चों के शैक्षणिक उन्नयन का कार्य भी शुरू हो रहा है। इसके लिए शिक्षा कैप्सूल तैयार किए हैं। इससे अब नियमित अध्ययन के साथ ही बच्चों की कमजोरी काे पकड़ते हुए दूर करने पर काम किया जाएगा।

परीक्षा से 1 माह पहले पूरा होगा पाठ्यक्रम
बोर्ड परीक्षाएं मई माह के प्रथम सप्ताह में प्रस्तावित हैं। ऐसे में फरवरी, मार्च और अप्रैल तक कुल सवा दाे महीने का समय बचा है। विभाग की ओर से इस समयावधि के अनुरूप पाठ्यक्रम पूर्ण करने की योजना बनाई जाएगी। इसमें परिस्थितियों को देखते हुए 60 प्रतिशत पाठ्यक्रम पूरा करवाया जाएगा। स्कूल स्तर पर ऑनलाइन पढ़ाई, स्माइल-2 व ई-कक्षा के माध्यमों के सहयोग से बोर्ड परीक्षाओं का पाठ्यक्रम परीक्षा से 1 माह पूर्व पूरा करवाना है।

न्यून परीक्षा परिणाम वाली स्कूलों का चयन
डीईओ माध्यमिक डॉ. भल्लूराम खीचड़ का कहना है कि निदेशालय ने बोर्ड में न्यून परीक्षा परिणाम देने वाले स्कूलों का चयन किया है। इसमें उन स्कूलों का चयन किया गया है, जहां पर परीक्षा परिणाम 50 प्रतिशत से कम है और जहां बच्चों के फेल हाेने का प्रतिशत ज्यादा है। ऐसे स्कूलों काे अब बाॅटम लाइन या आधारतल स्कूल कहा गया है। वहीं जाे हर साल 36 से 50 प्रतिशत प्राप्तांक प्राप्त करते हैं, उन्हें आगे अध्ययन में कहीं भी वरीयता नहीं मिलती है।

समस्त मॉडल पेपर पोर्टल पर अपलोड

सीबीईओ प्रहलादराम गोयल व एसीबीईओ शहर इंसाफ खां जई के अनुसार प्रयास-2021 के तहत बोर्ड परीक्षा परिणाम में गुणात्मक सुधार पर विशेष बल दिया गया है। तृतीय, द्वितीय व प्रथम श्रेणी वाले संभावित विद्यार्थियों को क्रमश: उच्चतम श्रेणी की तथा 90 प्रतिशत वाले प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को मेरिट की दिशा में कदम बढ़ाने का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए समस्त मॉडल पेपर व मॉडल उत्तर पुस्तिकाएं विभागीय पोर्टल पर अपलोड की गई हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी विशिष्ट कार्य को पूरा करने में आपकी मेहनत आज कामयाब होगी। समय में सकारात्मक परिवर्तन आ रहा है। घर और समाज में भी आपके योगदान व काम की सराहना होगी। नेगेटिव- किसी नजदीकी संबंधी की वजह स...

    और पढ़ें