पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नहीं थम रहा कोरोना का कहर:प्रदेश में सर्वाधिक 141 नए राेगी जोधपुर में मिले; संक्रमण दर 27%, IIT कंटेनमेंट जोन घोषित

जोधपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर में कोरोना संक्रमण बेहद तेजी से फैल रहा है। मंगलवार को प्रदेश में सर्वाधिक 141 पॉजिटिव मरीज जोधपुर में मिले। चिंताजनक यह है कि केवल 520 सैंपल में से 141 संक्रमित मिले। यानी संक्रमण दर 27 प्रतिशत से भी अधिक। वहीं रविवार और सोमवार को 314 मरीज पॉजिटिव मिले। यानि केवल 72 घंटे में 455 संक्रमित मरीज मिले हैं। इसके चलते मार्च के 30 दिन में 1456 संक्रमित मिल चुके हैं। जबकि 406 मरीज डिस्चार्ज हुए।

गंभीर बात यह है कि इस माह 12 संक्रमित मरीजों की डेथ हो गई है। मार्च में मिले संक्रमित जनवरी से 489 अधिक हैं। वहीं फरवरी से संक्रमितों की तुलना करें तो मार्च के तीस दिन में 1081 संक्रमित अधिक मरीज मिलें। जनवरी से अब तक कुल 2798 संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 34 मरीजों ने दम तोड़ दिया। इस दौरान 2364 डिस्चार्ज हुए हैं।

25 पॉजिटिव मिले आईआईटी में
आईआईटी में 25 स्टूडेंट एवं शिक्षक संक्रमित मिले। कंटेनमेंट के लिए तय मानकों से अधिक पॉजिटिव मिलने पर ग्रामीण क्षेत्र के उपखंड मजिस्ट्रेट ने करवड़ स्थित आईआईटी स्थित ब्लॉक जी 3 को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। वहां के निवासी अपने घरों में ही रहेंगे बिना अनुमत कारणों के बाहर नहीं आ सकेंगे। आईआईटी द्वारा बनाए सुपर आइसोलेशन सेंटर भी कंटेनमेंट जोन में है।

चिंतनीय: 2 दिन बाद फिर माैत
कोरोना से 2 दिन बाद फिर संक्रमित की मौत हुई। सीएचबी सेक्टर 14 निवासी तुलसाराम (45) को मथुरादास माथुर अस्पताल में 19 मार्च देर रात 9:41 बजे भर्ती कराया। मंगलवार अलसुबह करीब 3:13 बजे मौत हो गई। मरीज रोड़ एक्सीडेंट के चलते एमडीएम में भर्ती हुए थे।

संक्रमण: शहर के हर जाेन में रोगी
चिकित्सा विभाग द्वारा शहर में बनाए नौ जोन में से प्रतापनगर में 09, शहर परकोटा में 16, उदयमंदिर में 5, महामंदिर में 9, मसूरिया में 11, शास्त्रीनगर में 17, मधुबन में 12, रेजिडेंसी में 12 और बीजेएस में 12 पॉजिटिव आए। वहीं ग्रामीण क्षेत्र में बनाड़ में 15, सालावास में 11, बिलाड़ा में 2, भोपालगढ़ में 2, ओसियां में 4, बावड़ी में 3, बाप में 1 शेरगढ़ में 1 और बालेसर में 1 पॉजिटिव मिला।

इधर, घातक रवैया, 63% बुजुर्गों ने अब तक नहीं लगवाया टीका

शहर में 20 से लेकर 27 मार्च तक, 7 दिनों में 832 संक्रमित हुए, जिनमें करीब 20% यानि 170 संक्रमित बुजुर्ग हैं। इनमें से 4 संक्रमिताें की काेराेना ने जान ले ली। चिंताजनक यह है कि अब भी कोरोना वैक्सीनेशन करवाने वाले बुजुर्गों की संख्या बहुत कम है। मार्च से शुरू हुए तीसरे चरण के 30 दिन बाद भी केवल 37% बुजुर्गों ने ही टीका लगवाया है। अब भी 63 प्रतिशत बुजुर्गाें ने वैक्सीन नहीं लगवाया है।

इसका अर्थ यह है कि 63 प्रतिशत बुजुर्गों ने कोरोना से बचाव के अभियान में हिस्सेदारी नहीं निभाई, एक तरह से इन्हें अब भी संक्रमण का खतरा अधिक है। कोरोना के दिन-प्रतिदिन बढ़ते संक्रमण में वैक्सीनेशन योग्य हर व्यक्ति की जिम्मेदारी है कि वे आगे आकर टीका लगवाएं। इसके साथ ही हर घर के सदस्यों का भी फर्ज है कि वे अपने घर के बुजुर्गों को समझाएं और ले जाकर उनका टीकाकरण करवाएं। कोरोना से सबसे ज्यादा खतरा बुजुर्गों को ही है।

1 मार्च से शुरू हुए टीकाकरण में बस शुरूआती उत्साह दिखा
कोरोना वैक्सीनेशन के प्रथम एवं द्वितीय चरण में हेल्थवर्कर्स एवं फ्रंटलाइनर्स को टीके लगाए गए थे। तीसरे चरण में 1 मार्च से बुजुर्ग को टीका लगाना शुरू हुआ। शुरुआत में वैक्सीनेशन के प्रति बुजुर्गों में जोश दिखाई दिया, लेकिन एक-दो दिन बाद वह ठंडा पड़ गया। 30 दिन में अब तक 1,54,196 बुजुर्गों ने ही टीके की पहली डाेज लगवाई है।

होली के 2 दिन में 214 लोग संक्रमित: होली के दो दिन में शहर में 314 लोग संक्रमित आए। इन दो दिनों में केवल 24 मरीज डिस्चार्ज हुए। इसके चलते जनवरी से अब तक कुल संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 2657 पहुंच चुका है। इनमें से 33 मरीजों ने दम तोड़ दिया। वहीं डिस्चार्ज 2354 हुए हैं। संक्रमण इस महीने में जबरदस्त तेजी से फैल रहा है। मार्च के 29 दिनों में 1315 संक्रमित हो चुके हैं। यह जनवरी-फरवरी के कुल संक्रमितों के लगभग बराबर है। इस महीने 12 मौतें भी हुई हैं।

कारण- विभागीय जागरुकता में कमी, लोगों में भ्रांतियां, जो सच से मीलों दूर
कम टीकाकरण के प्रमुख कारणों में विभागीय जागरुकता एवं प्रचार-प्रसार में कमी को प्रमुख माना जा रहा है। इसके साथ ही लोगों में टीकाकरण को लेकर भ्रांतियां हैं, जो कि सच से मीलों दूर हैं। इन्हीं कारणों से टीकाकरण की गति कम है। गौरतलब है कि होली के दो दिन शहर में टीकाकरण नहीं हुआ।

अब जागे जिम्मेदार: टीकाकरण करवाने को पर्ची बांटेंगे व मनुहार करेंगे, 15 दिन वार्ड वार वैक्सीनेशन शिविर लगाएंगे

नगर निगम (उत्तर) ने 15 दिनाें में 60 से अधिक आयु के सभी लोगों तक पहुंचकर वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करने की कार्ययोजना बनाई है। कलेक्टर इंद्रजीत सिंह के आदेश पर आयुक्त (उत्तर) रोहिताश्वसिंह तोमर, इंसिडेंटल कमांडर विकास राजपुरोहित, मंगलाराम और अनिल पूनिया के साथ पांच वार्डों में जाकर लोगों से वैक्सीनेशन की अपील की।

  • कलेक्टर की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में निर्णय हुआ कि सभी इंसिडेंटल कमांडर अपने वार्डों में प्रत्येक दिन दो शिविर आयोजित करेंगे।
  • शिविर से 1 दिन पहले निगम, मुख्य सफाई निरीक्षक, वार्ड प्रभारी, आशा सहयोगिनी, वार्ड पार्षद के साथ मिलकर मतदाता सूची से मिलान करते हुए लाभार्थियों के नाम से पर्ची वितरित करेंगे।
  • सीएम की वैक्सीनेशन की अपील के पेंफ्लेट देकर अगले दिन शिविर में आकर वैक्सीन लगवाने को प्रेरित करेंगे।
  • क्षेत्र की एएनएम एक दिन पूर्व सभी लाभार्थियों को फोन कर अगले दिन शिविर में आने का आग्रह करेंगी।
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें