बजरी माफिया के खिलाफ एक्शन मोड में पुलिस:पुलिस डंडे बरसाती रही, बैखोफ चालक ने सड़क पर खाली कर दिया बजरी से भरा डंपर

जोधपुर3 महीने पहले
बजरी से भरे डंपर के चालक को पकड़ कर ले जाती पुलिस।

लगातार हो रही आलोचना के बाद आखिरकार बुधवार को पुलिस बजरी माफिया के खिलाफ कुछ एक्शन मोड में नजर आई। शहर में बड़ी संख्या में आ रहे बजरी से भरे डंपर रोकने में नाकाम पुलिस ने आज भदवासिया चौराहे पर एक डंपर को रोक ही लिया। लेकिन इसके लिए उसे कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। पुलिस चालक व सहचालक पर डंडे बरसाती तब तक बेखौफ चालक ने डंपर में भरी बजरी को सड़क पर खाली कर पुलिस की दिक्कत बढ़ा दी।

पुलिस को सूचना मिली थी कि एक बजरी से भरा डंपर शहर में प्रवेश कर गया है। इसकी पीछा करते हुए पुलिस ने आखिरकार भदवासिया चौराहे के समीप डंपर को रोकने में सफलता हासिल की। डंपर रोकते ही पुलिस के जवानों ने चालक व सहचालक को पकड़ने का प्रयास किया। सहचालक तो पुलिस के काबू में आ गया, लेकिन चालक डंपर में ही बेखौफ होकर बैठा रहा। इस दौरान उसने लिफ्ट से बजरी को सड़क पर खाली कर दिया। ताकि पकड़े जाने के बाद सबूत नहीं रहे कि डंपर में बजरी भरी थी। पुलिस के जवान ने ऊपर चढ़ लाठी से कांच फोड़ चालक को गिरेबान पकड़ नीचे उतारा। तब तक सड़क पर बजरी का ढेर लग चुका था। करीब पंद्रह मिनट तक चले इस ड्रामे के दौरान सड़क पर जाम लग गया और लोग पुलिस का एक्शन देखते रहे। बाद में पुलिस ने डंपर को जब्त कर लिया और चालक व सहचालक को पकड़ कर ले गई।

उल्लेखनीय है कि बजरी के कारोबार पर रोक के बावजूद धड़ले से शहर में इसकी उपलब्धता है। पुलिस थानों के सामने से होकर रोजाना डंपर निकलते है। लूणी क्षेत्र के ग्रामीणों ने बजरी माफिया के खिलाफ आंदोलन भी किया था। लोगों के धरने में केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत भी शामिल हुए थे। उन्होंने बजरी माफिया की सरकार के साथ मिलीभगत का आरोप लगाया था। इसके बाद पुलिस का यह पहला एक्शन था।

खबरें और भी हैं...