पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • When AIIMS OPD, Closed For 18 Months, Opened Today, There Was A Crowd, The System Was Not Managed By AIIMS, The Crowd Broke The Glass Gates

जोधपुर में 18 महीने से बंद एम्स का ओपीडी खुला:पहले ही दिन लग गई भीड़, पर्ची को लेकर बहस हुई, देखते ही देखते लोगों ने दरवाजे के कांच तोड़ दिए

जोधपुर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ओपीडी में मरीजों की भीड़। - Dainik Bhaskar
ओपीडी में मरीजों की भीड़।

जोधपुर एम्स की ओपीडी को 18 माह बाद आज सोमवार को शुरु हुई तो पहले ही दिन व्यवस्था बिगड़ी नजर आई। फिजिकल ओपीडी में सुबह भारी भीड़ लग गई इधर मरीजों की पर्ची को लेकर बहस हुई देखते ही देखते भीड़ ने दरवाजे के कांच तोड़ दिए ऐसे में एक बार माहौल गर्म हो गया। एम्स गार्ड ने भीड़ को धकेल कर बाहर किया। एम्स ओपीडी में प्रवेश के गेट बंद कर दिए गए। इधर परिसर में भी भारी भीड़ होने से मौके पर पुलिस को बुलाना पड़ा तब जाकर स्थिति नियंत्रण में आई हालांकि एम्स अधिकारी जानकारी देने से बचते रहे।

गेट के कांच टूटे

मौके पर मौजूद दिपक सोनी ने बताया कि भीड़ ज्यादा होने से पर्ची काउंटर पर कोई बहस हुई और दस -पंद्रह लोग एक जुट हो गए। उनकों खदेड़ा गया तो गेट के कांच टूट गए। इस पर मुख्य द्वार बंद कर बाहर खड़े मरीज बाहर ही रहे और अंदर वालों को दूसरे गेट से बाहर निकाला। हर गेट पर अंदर आने और बाहर जाने के लिए मरीज व उनके परिजन बहस करते नजर आए।

एम्स में लगी मरीजों की कतारें।
एम्स में लगी मरीजों की कतारें।

हजारों की तादाद में पहुंचें मरीज लम्बी कतारें नजर आई

कोविड की पहली लहर के बाद से ही एम्स की फिजिकल ओपीडी बंद थी। ऐसे में जब आज ओपीडी खुली तो ग्रामीण क्षेत्रों सहित शहरी मरीज भी इलाज के लिए पहुंचे लेकिन एक साथ भीड़ होने से स्थिति नियंत्रण से बाहर हो गई। मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि पर्ची समय पर नहीं बनने के कारण परिजन बिफर गए तो किसी ने बताया कि अडेंडेट ने समय पर नहीं देखा तो हंगामा हो गया।

एम्स डिप्टी डायरेक्टर एन आर विश्नाई से जब बात की तो वे अनजान नजर आए उन्होंने कहा कि वह एम्स से बाहर है उन्हें नहीं पता कि एम्स में क्या हुआ। बासनी थानाधिकारी पाना चौधरी ने बताया कि भीड़ ज्यादा होने से परेशानी हुई। और कांच पर दबाव पड़ने के कारण गेट के कांच टूट गए।

18 माह से बंद फिजिकल ओपीडी आज सोमवार से फिर शुरू हुई। अब मरीजों को चैकअप के लिए फोन पर समय लेने की अनिवार्यता खतम होने के बाद आज मरीज सीधा अस्पताल पहुंचे। ओपीडी में जनरल मेडिसिन, सर्जरी, में प्रा ऑर्थोपेडिक, गायनी, शिशु रोग, पीएमआर, आंख, ईएनटी और चर्म रोग के लिए 192 मरीजों को देखने के लिए स्लॉट रखा गया ।

बाकी विभागों में मरीजों के लिए 96 स्लॉट प्रतिदिन रहेंगे। नई व्यवस्था में मरीज को दी हुई तारीख पर सीधे ओपीडी में देखा जाने की व्यवस्था है । रजिस्ट्रेशन की औपचारिकता नहीं होने से आज मरीज सीधे एम्स ओपीडी पहुंचे जिससे भीड़ बढ गई।

खबरें और भी हैं...