पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दक्षिण नगर निगम का फैसला:वायु प्रदूषण कम करने एम्स रोड पर होंगे काम, पार्किंग ठेका निरस्त, 3 माह पहले ही 47.29 लाख में दिया था

जोधपुर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पार्किंग ठेकेदार ने मनमर्जी से सड़क सीमा में पत्थर खड़े कर की तारबंदी

दक्षिण नगर निगम ने तीन माह पहले नीलामी में एम्स के बाहर बेचे गए पार्किंग ठेके को निरस्त कर दिया है। पार्किंग की नीलामी 47 लाख 29 हजार रुपए में दो साल के लिए की गई थी। बोली गुड़ा विश्नोईयां निवासी राम निवास ने लगाई थी। ठेकेदार ने अंतिम बोली लगाने के बाद धरोहर राशि के रूप में 85 हजार के साथ एक चौथाई राशि 11 लाख 82 हजार 250 रुपए भी जमा करवा दिए थे। उसने 18% जीएसटी राशि भी निगम में जमा करवा दी। इसके बाद लॉकडाउन लग गया।

निगम ने जून में डिमांड नोटिस निकाला तो ठेकेदार ने बोली की शेष रही तीन चौथाई राशि 35 लाख 46 हजार 470 रुपए तथा 18% जीएसटी के कुल 6 लाख 38 हजार 415 रुपए एक जुलाई को दक्षिण निगम कोष में जमा करवा दिए थे, लेकिन अब दक्षिण निगम ने एकाएक पार्किंग निरस्त कर दी। ठेकेदार निगम के फैसले से संतुष्ट नहीं हैं। पार्किंग ठेकेदार राम निवास ने आरोप लगाया कि पार्किंग ठेका निरस्त ही करना था तो नीलामी क्यों की?

वायु प्रदूषण सुधार के काम होंगे तो पार्किंग कम होने की संभावना

दाऊजी की होटल से बासनी तिराहा होते हुए एम्स अस्पताल के बाहर तक वायु प्रदूषण में सुधार को लेकर एनकेप के अंतर्गत काम होने हैं। शहर में उड़ती रेत के कारण वायु प्रदूषण होता है। इसको लेकर राजस्थान हाईकोर्ट के अलावा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड भी इस मामले को लेकर गंभीर है।

इसके चलते ही केंद्र सरकार ने नगर निगम उत्तर व दक्षिण को 62 करोड़ की राशि दी है, जिसके तहत शहर में काम होने हैं। दाऊजी के होटल से बासनी तिराहा होते हुए एम्स के बाहर दोनाें तरफ इंटरलॉकिंग टाइल्स बिछाने और पौधरोपण करने के काम होंगे।

सड़क मार्गाधिकार में कर दी फेंसिंग, खड़े कर दिए पत्थर

ठेकेदार ने पार्किंग की नीलामी उठाने के बाद एम्स के बाहर सड़क मार्गाधिकार में पत्थर लगाकर फेंसिंग कर ली। इसके कारण सड़क छोटी नजर आने लगी। इस मामले में ठेकेदार रामनिवास ने कहा कि उसे यह जमीन नीलामी में मिली है। नीलामी के पहले निगम ने पूर्व की पार्किंग में जमीन को बढ़ाकर दिया। इस पर मेरे 2 लाख रुपए खर्चा आया। अब यह खर्चा मुझे कौन चुकाएगा?

दक्षिण निगम ठेकेदार का पूरा पैसा लौटाएगा

​​​​​​​दक्षिण निगम आयुक्त डॉ. अमित यादव ने बताया कि वायु प्रदूषण में सुधार के कार्य के चलते एम्स के बाहर पार्किंग का ठेका निरस्त किया है। ठेकेदार को निगम कोष में जमा करवाई राशि 56.64 लाख रुपए लौटेंगे।

खबरें और भी हैं...