पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नगर निगम चुनाव:हां भाई, की अब हो गई बोलती बंद, जिले वाले खुद के वार्ड में सिमट गए

जोधपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जीमण व चुनाव पड़ोस के घर में ही अच्छे लगते हैं। यह कहावत इन दिनों शहर के एक वार्ड में खड़े प्रत्याशी व परिवार के मुखिया पर चरितार्थ होती नजर आ रही है। हां भाई...बोल...कहने वाले की बोलती इन दिनों बंद हो गई है। टिकट लेने के बाद अब जिले में दबदबा रखने वाले एक नेता अब खुद एक वार्ड तक सिमट कर रहे गए हैं। इधर, उनके चाहने वाले भी सक्रिय हो गए। हालांकि इस नेता की नजर मुखिया पद पर है, इसलिए अन्य वार्डों को राम भरोसे छोड़कर पूरी ताकत के साथ मैदान में उतरे हुए हैं।

चाहने वालों की संख्या भी अपार है, मतदान भले ही चार दिन बाद है, लेकिन इस वार्ड में हार-जीत के दावे-प्रतिदावे अभी से गूंजते नजर आ रहे हैं। उनके चाहने वाले यह कहते भी सुने जा रहे हैं कि- ‘बहुत हुआ हां भाई...अब बारी हमारी है।’ नेता भी ज्यादा चतुर हैं सो अब अपनी जुबान को भी कंट्रोल में रखने की पूरी कोशिश करते नजर आ रहे हैं।
मीठी मासी अब ज्यादा चालाकी मत दिखा
व्यस्ततम बाजार में चमकते जुगनू की तरह राजनीतिक दल के यह कार्यकर्ता भी इन दिनों काफी चर्चा में हैं। उनके पुराने समय की छाप के कारण उनका भय भी अभी तक कायम है। लेकिन अब वे सफेद कपड़ों पर गंदगी लगाने के मूड में नहीं हैं। टिकटों की माथापच्ची हुई तो पुराना जमाना भी याद आया। अपने ही दल के एक नेता को खुली चुनौती भी दे डाली तो नेता भी घबरा गए।

उनके बीच-बचाव में आए एक प्रमुख नेता ने जब इस कार्यकर्ता से बात कर समझाइश करनी चाही तो मामला और बिगड़ गया। अपनी स्टाइल के लिए पहचाने जाने वाले इस प्रमुख नेता ने जब नाराज हुए कार्यकर्ता से बात की तो मधुर वाणी गले नहीं उतर पाई, और जवाब में बोल दिया मीठी मासी अबे झांसा में कौनी आवां। समय तो आवेला, तब टिकट काटने का पूरा कर्ज ब्याज सहित उतारुंगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर-परिवार से संबंधित कार्यों में व्यस्तता बनी रहेगी। तथा आप अपने बुद्धि चातुर्य द्वारा महत्वपूर्ण कार्यों को संपन्न करने में सक्षम भी रहेंगे। आध्यात्मिक तथा ज्ञानवर्धक साहित्य को पढ़ने में भी ...

और पढ़ें