करौली MLA बोले- अग्निवीरों से शादी कौन करेगा:रिटायरमेंट के बाद अंधेरे में होगा भविष्य, अग्निपथ योजना युवाओं के साथ खिलवाड़

करौलीएक महीने पहले
कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हाथों में तख्तियां लेकर मोदी सरकार के खिलाफ कलेक्ट्रेट के सामने प्रदर्शन किया।  - Dainik Bhaskar
कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हाथों में तख्तियां लेकर मोदी सरकार के खिलाफ कलेक्ट्रेट के सामने प्रदर्शन किया। 

केंद्र सरकार की सेना में भर्ती को लेकर लागू की गई अग्निपथ योजना के विरोध में करौली जिले के सभी उपखंड मुख्यालय पर विधायकों के नेतृत्व में सत्याग्रह, धरना-प्रदर्शन कर विरोध प्रकट किया गया। इस दौरान राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर सेना में अग्निपथ योजना से भर्ती रोकने की मांग की। करौली कलेक्ट्रेट पर विप्र कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष महेश शर्मा, करौली विधायक लाखन सिंह मीणा, सपोटरा उपखंड पर ग्रामीण विकास एवं पंचायती मंत्री रमेश मीणा, हिंडौन में भरोसी लाल जाटव व टोडाभीम में विधायक पीआर मीणा के नेतृत्व में धरना देकर प्रदर्शन किया गया।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर सेना में अग्निपथ योजना से भर्ती रोकने की मांग की।
कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर सेना में अग्निपथ योजना से भर्ती रोकने की मांग की।

करौली विधायक लाखन सिंह मीणा ने कहा कि 4 साल की नौकरी के बाद जब युवा रिटायर हो जाएंगे तो उनका भविष्य अंधकार में होगा। रिटायरमेंट के बाद उनसे शादी कौन करेगा। युवा कुंवारे रह जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस तरह की योजना युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ है। कांग्रेस पार्टी युवाओं के साथ है और जब तक सरकार इस योजना को वापस नहीं लेगी, तब तक कांग्रेस पार्टी आंदोलन करती रहेगी। सत्याग्रह के दौरान वक्ताओं ने सेना में अग्नि वीर सैनिकों की भर्ती को देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ बताया। वक्ताओं ने कहा कि 4 साल की नौकरी में युवा सेना का रंग ढंग सीखेंगे, लेकिन इसके बाद वो रिटायर हो जाएंगे।

कांग्रेस नेताओं ने कहा कि रिटायरमेंट के बाद अग्निवीरों को पेंशन नहीं मिलेगी। रिटायरमेंट के बाद उसको कहीं नौकरी नहीं मिलने वाली, जिससे देश का सैनिक दर-दर की ठोकर खाता फिरेगा। इस दौरान कांग्रेसियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जन विरोधी नीतियां बनाने का आरोप लगाते हुए जमकर विरोध किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार के समय 400 रुपए का सिलेंडर अब 1000 से ऊपर मिल रहा है। कांग्रेस नेताओं ने नोटबंदी, जीएसटी जैसी कई योजनाओं का विरोध करते हुए मोदी सरकार को 2024 में उखाड़ फेंकने का प्रण दोहराया। हाथों में तख्तियां लेकर मोदी सरकार के खिलाफ कांग्रेसियों ने कलेक्ट्रेट के सामने प्रदर्शन किया।

खबरें और भी हैं...