परिवार में एक के बाद एक हादसे:करंट से 2 दिन पहले इकलौते बेटे की हुई थी मौत, अब मां ने भी सदमे में तोड़ा दम

करौली5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लांगरा | वीर सिंह की मौत के बाद बहू और पोता पोती के साथ राजो बाई  । - Dainik Bhaskar
लांगरा | वीर सिंह की मौत के बाद बहू और पोता पोती के साथ राजो बाई ।
  • भांकरी गांव का मामला 15 अगस्त को खेत से चारा लाते समय करंट से हुई थी मौत

भांकरी के मकनपुर स्वामी निवासी 28 वर्षीय युवक की मौत के 2 दिन बाद सदमे में आई मां ने भी बेटे के वियोग में दम तोड़ दिया। जिससे पूरे गांव में शोक की लहर छा गई। जानकारी के अनुसार मकनपुर स्वामी (भांकरी) निवासी वीर सिंह जाटव (28) स्वतंत्रता दिवस के दिन पशुओं के लिए चारा ले रहा था। पास ही स्थित बिजली के खंभे की सपोट के लिए लगे तार में करंट होने का उसे अंदेशा तक नहीं था और वह उसके सम्पर्क में आ गया। इससे वीर सिंह की मौक़े पर ही मौत हो गई। इकलौते पुत्र की मौत की खबर जब मां राजो बाई को लगी तो वह बेटे की मौत के सदमे में आ गई।

वीरसिंह का अंतिम संस्कार के बाद मां की तबियत बिगड़ गई, जिसके चलते उन्हें करौली जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। लेकिन राजो बाई की हालत लगातार बिगड़ती गई। राजो बाई के लगातार दो दिन आक्सीजन लगी रही। इस दौरान वह बार-बार अपने बेटे को पुकारती रही। हालत लगातार बिगड़ती देख चिकित्सकों ने जयपुर रेफर कर दिया। परिजन उसे जयपुर ले जाते उससे पहले ही राजो बाई ने बुधवार को दम तोड़ दिया। वीर सिंह के पिता की लंबी बीमारी से पहले ही मौत हो गई थी।

खबरें और भी हैं...