बाल विवाह को रुकवाया:गेहूंखेड़ी गांव में बाल विवाह को रुकवाया

अकलेरा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

क्षेत्र के गेहूंखेड़ी में 29 अप्रैल को होने वाले बाल विवाह को प्रशासन और पुलिस के सहयोग से रुकवाया दिया। तालुका विधिक सेवा समिति सचिव विनोद कुमार गौड़ ने बताया कि 28 अप्रैल को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण में जरिये फ़ोन सूचना मिली थी कि 29 अप्रैल को गेहूंखेड़ी गांव के कन्हीराम पुत्र बालचंद एरवाल की शादी होने वाली है। वर ओर वधु दोनों ही नाबालिग हैं। इस पर अध्यक्ष एडीजे असीम कुलश्रेष्ठ ने बाल विवाह प्रतिषेध अधिकारी उपखंड मजिस्ट्रेट और डीएसपी को तुरंत कार्रवाई के निर्देश प्रदान किए। प्रशासन और पुलिस की जांच में दूल्हे की जन्मतिथि 10वीं की मार्कशीट के अनुसार 21 जनवरी 2004 है, अभी दूल्हे की उम्र करीब 17 वर्ष है। इस पर पूरे गांव वालों के सामने अभिभावक और दूल्हे को पाबंद किया कि जब तक वह 21 साल का नहीं होगा, शादी नहीं करेगा। कार्यवाही के दौरान गेहूंखेड़ी के भू-अभिलेख निरीक्षक, हल्का पटवारी और पुलिस जाप्ता मौजूद रहा।

खबरें और भी हैं...