ठगी:बैंक के बाहर युवक को झांंसा देकर 90 हजार रुपए ठगे, जांच में जुटी पुलिस

बारां2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पहले युवक ने रुपए से भरा बैग छीनने, फिर ठगी का शिकार होने की बात कही

शहर के कोटा रोड स्थित एसबीआई शाखा के बाहर अज्ञात बदमाश मंडी व्यापारी के मुनीम से झांसा देकर 90 हजार नकदी लेकर फरार हो गए। बदमाशों ने पीड़ित को एक थैला में 3 लाख रुपए रखे होने की बात कहकर उसे दी। पीड़ित को झांसा देकर उससे 90 हजार रुपए से भरी थैली ले ली। जैसे ही युवक पैसे जमा करवाने के लिए बैंक में गया। वहां पहुंचकर देखा ताे थैले में कागज भरे हुए थे। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच में जुट गई।

कोतवाली सीआई मांगेलाल यादव ने बताया कि फल मंडी व्यापारी रामस्वरूप ने रिपोर्ट दर्ज करवाई थी कि वह फल मंडी में प्रेमचंद अरोड़ा की दुकान पर काम करता है। व्यापारी ने किसी फर्म के खाते में पैसे जमा करवाने के लिए उसे भेजा था। इस दौरान उसे 65 हजार रुपए नकद व 25 हजार रुपए का चैक पैसे निकलवाने के लिए भी दिया था। उसने एक बैंक से 25 हजार रुपए चैक से भी निकवा लिए। इसके बाद 90 हजार रुपए थैली में लेकर एसबीआई के बाहर गया था। इस दौरान उससे नकदी से भरी थैली बदमाश छीनकर भाग गए।

पुलिस ने कई सीसीटीवी कैमरे खंगाले, लेकिन प्रथृमदृष्टया जांच में यह मामला झूठा पाया गया।सीआई यादव ने बताया कि पूछताछ में रामस्वरूप नागर ने बताया कि वह ठगी का शिकार हुआ है। उसे बैंक के बाहर तीन व्यक्ति मिले थे। जिन्होंने कहा कि उनके पास ₹3 लाख रुपए हैं, जो बैंक में जमा नहीं हो पा रहे हैं। बदमाशों ने उसे विश्वास में लेकर थैला दिया और ₹90 हजार रुपए लेकर फरार हो गए। थैले में कागज भरे मिले। फरियादी ने मालिक के डर से झूठी कहानी बनाई और पुलिस व मालिक रामनाथ अरोड़ा को चकमा देता रहा। पूछताछ तके यह वारदात बताई है। सीसीटीवी फुटेज मे पीड़ित अज्ञात लोगों के साथ दिखाई दे रहा है।

खबरें और भी हैं...