पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

किसान संघ का धरना कल:राष्ट्रव्यापी आह्वान पर भारतीय किसान संघ का धरना कल

बारां11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • एमएसपी के बदले लाभकारी मूल्य पर फसल खरीद की मांग को लेकर करेंगे मिनी सचिवालय पर प्रदर्शन

कृषि उपज का लाभकारी मूल्य देने सहित कई मांगों को लेकर भारतीय किसान संघ का एक दिवसीय राष्ट्रव्यापी धरना आठ सितंबर को आयोजित किया जाएगा।मिनी सचिवालय में दोपहर एक बजे धरना-प्रदर्शन किया जाएगा। इससे पहले सुबह 11 बजे किसान संघ के पदाधिकारी, कार्यकर्ता व किसान कृषि उपजमंडी में एकत्र होकर वाहन से मिनी सचिवालय पहुंचेंगे। धरना-प्रदर्शन को लेकर सोमवार को आयोजित प्रेस वार्ता में संभाग अध्यक्ष विक्रमसिंह सिरोहिया ने कहा कि गत सात-आठ अगस्त को दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर आयोजित भारतीय किसान संघ की प्रबंध समिति की बैठक में तय किया गया था कि 31 अगस्त तक केंद्र सरकार लाभकारी मूल्य देने संबंधी नीति घोषित करे।

जिलाध्यक्ष अमृत छजावा ने कहा कि खाद, बीज, मजदूरी, बिजली, पानी की कीमतों समेत किसान परिवार का मानव श्रम भी बढ़ गया। सरकार की ओर से घोषित न्यूनतम समर्थन मूल्य छलावा साबित हुआ है। जिसमें उपज की केवल नौ प्रतिशत ही खरीद होती है। उनकी मांग लागत के आधार पर लाभकारी मूल्य के लिए कठोर कानून बनाने की है। साथ ही घोषित मूल्य पर खरीद भी हो। संभाग प्रचार प्रमुख हेमराज यदुवंशी ने कहा कि हालांकि यह कानून किसान हितेशी हैं, लेकिन इनमें संशोधन किया जाना जरूरी है। सरकार को बताया गया था कि सभी तरह की खरीद लाभकारी मूल्य पर होने का कानूनी प्रावधान हो। निजी व्यापारियों का राज्य एवं केंद्र स्तर पर पंजीयन जरूरी हो तथा उनकी बैंक गारंटी एक पोर्टल पर सबके लिए उपलब्ध हो। स्वतंत्र कृषि न्यायालयों की व्यवस्था हर जिले में हो। नए कानूनों में किसान की परिभाषा में कॉर्पोरेट कंपनियां भी आ रही हैं। किसान की परिभाषा में कृषि से आजीविका चलाने वाले को ही किसान माना जाए। प्रेस वार्ता में प्रांतीय अध्यक्ष शंकरलाल नागर, जिला मंत्री भूपेंद्र शर्मा, जिला उपाध्यक्ष बंशीलाल नागर व सहमंत्री देवकिशन नागर भी मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...