पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वर्दी पर लगेंगे बॉडी वार्न कैमरे:ट्रैफिक पुलिस की वर्दी पर लगेंगे बॉडी वार्न कैमरे वाहन चालकों से नोंक-झाेंक पर लगेगी लगाम

बारां11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बारां. ट्राफिक पुलिस को मिला बॉडी वार्नर कैमरा। - Dainik Bhaskar
बारां. ट्राफिक पुलिस को मिला बॉडी वार्नर कैमरा।
  • ट्रैफिक पुलिस को उपलब्ध करवाए 15 बॉडी वार्न कैमरे, कार्मिकों को प्रशिक्षण भी दिया
  • सीसीटीवी की तरह काम करेगा कैमरा, वीडियो क्वालिटी भी होगी बेहतर

पुलिस-पब्लिक के बीच ट्रैफिक नियमों को लेकर अक्सर होने वाली नोक-झोंक पर बॉडी वार्न कैमरे लगाम लगाएंगे। ट्रैफिक पुलिस को 15 बॉडी वार्न कैमरे दिए गए हैं। यदि कोई ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करता है या पुलिस गलत करती है, तो इसकी तुरंत जानकारी मिल जाएगी।खास बात है कि पुलिस पर आए दिन आरोप लगते रहते हैं तथा कई बार लोग कहासुनी करते हैं। पुलिस अधिकारियों के समक्ष इस बात की समस्या आती थी कि पुलिस और शिकायतकर्ता में कौन सच बोल रहा है? ऐसी स्थिति में अब पुलिस को बॉडी वार्न कैमरों से काफी मदद मिल सकती है। वहीं आमजन को भी राहत मिलेगी।

जानिए...क्या है बॉडी वार्न कैमरा बॉडी वार्न कैमरा ड्यूटी में तैनात पुलिस कर्मियों की वर्दी के ऊपर लगा रहेगा। कैमरे के जरिए पुलिस और लोगों के बीच हुई बातचीत और अन्य गतिविधियों को कैद किया जा सकेगा। एक तरह से यह सीसीटीवी कैमरे की तरह काम करता है। इसमें स्टोरेज के लिए मैमोरी कार्ड भी लगा हुआ है। इनमें वीडियो की क्वालिटी भी बेहतर होगी। कैमरे की गुणवत्ता इस कदर होगी कि पुलिस और लोगों के बीच हुई हर बात स्पष्ट सुनाई और दिखाई देगी।

ड्यूटी शुरू होते ही कैमरा हो जाएगा ऑन, लोकेशन भी देखी जा सकेगी ट्रैफिक थाना प्रभारी मानसिंह ने बताया कि ट्रैफिक पुलिस थाना में 15 बॉडी वार्न कैमरे मिले है। पुलिसकर्मियों को कैमरे दे दिए गए है। इसके लिए कार्मिको को प्रशिक्षण भी दिया गया है। ड्यूटी शुरू होते ही कैमरे ऑन हो जाएंगे। ड्यूटी के दौरान चालान अधिकारी कैमरा चालू रहेगा। इसके अलावा चालान अधिकारियों का लोकेशन भी देखी जा सकेगी। कई बार पुलिस की ओर से चालान की कार्रवाई के दौरान वाहन चालक की ओर से अभद्रता कर दी जाती है। व लोगो की ओर से आरोप लगाए जाते हैं। इनका सत्यापन हो सकेगा।

फील्ड में रहने वाले सभी पुलिसकर्मियों को बॉडी वार्न कैमरे उपलब्ध करवाने की योजना पर काम चल रहा है। फिलहाल, ट्रैफिक पुलिस और वाहन चालकों के बीच मिलने वाली शिकायतों के मद्देनजर 15 कैमरे ट्रैफिक पुलिस को उपलब्ध करवाए गए है। अगर अब इस तरह का कोई मामला सामने आता है तो तुरंत उसकी जांच करवाई जा सकती है, जो दोषी होगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। कैमरों से पुलिस के व्यवहार व कार्यशैली में पारदर्शिता भी आएगी।- विजय स्वर्णकार, एएसपी बारां

खबरें और भी हैं...