बंधुआ मजदूर परिवार को कराया मुक्त:30 हजार रुपए एडवांस देकर वसूली के लिए मजदूरी पर लगाया, 6 महीने तक कराते रहे काम

बारां6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुक्त कराया गया बंधुआ मजदूर परिवार। - Dainik Bhaskar
मुक्त कराया गया बंधुआ मजदूर परिवार।

बारां जिले के अटरू तहसील में मध्य प्रदेश के एक परिवार को 30 हजार रुपए एडंवास देकर बंधुआ मजदूरी कराने का मामला सामने आया है। पिछले 6 महीने से बंधुआ मजदूरी कर रहे परिवार को सोमवार रात मुक्त कराया गया है। दो नामजद आरोपियों के खिलाफ जांच की जा रही है।

नेशनल कैंपेन कमिटी फॉर इरेडिकेशन ऑफ बॉन्डेड लेबर के राष्ट्रीय कन्वेनर निर्मल गोराना अग्नि ने बताया कि 26 नवंबर को कलेक्टर बारां और एसडीएम अटरू को लिखित शिकायत दी गई। शिकायत में बताया कि मध्यप्रदेश के करण सहरिया, पत्नी और 9 व 12 साल के बेटे के साथ अटरू आए थे। आरोप है कि अटरू निवासी दिनेश से करण सहरिया ने रोजगार मांगा तो उसने 30 हजार रुपए एडवांस के तौर पर दे दिए।

जिसकी वसूली के लिए पूरे परिवार को ही भगवान मीणा के यहां मजदूरी पर लगा दिया। पिछले छह महीने से बंधुआ मजदूरी कराने के दौरान आरोपियों ने 70 हजार रुपए ओर निकाल दिए। शिकायत पर प्रशासन की ओर से कार्रवाई कर सोमवार रात को बंधुआ परिवार को मुक्त करवाकर मध्यप्रदेश भेजा गया।

खबरें और भी हैं...