पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

सुविधा:काॅलेज छात्रों को मिलेंगे क्षमता विकास के लिए फ्री मूक्स कोर्सेज

बारां13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • काॅलेज शिक्षा विभाग ने ट्रिपल आईटी कोटा के साथ एमओयू किया, जिले के कॉलेज छात्रों को मिलेगा लाभ

शहर में अब कॉलेज छात्रों को क्षमता विकास के लिए फ्री मूक्स कोर्सेज कर सकेंगे। राजकीय महाविद्यालय प्राचार्य एवं जिला संसाधन सहायता समिति के अध्यक्ष डाॅ. केएम मीना ने बताया कि महाविद्यालयों में पढ़ रहे लगभग 12 लाख छात्रों के लिए क्षमता विकास, रोजगारपरक अतिरिक्त कौशल एवं ज्ञान संवर्द्धन के लिए काॅलेज शिक्षा विभाग ने ट्रिपल आईटी कोटा के साथ एक एमओयू हस्ताक्षरित किया है। ट्रिपल आईटी की ओर से राजस्थान के इन विद्यार्थियों के लिए मूक्स कोर्स डिजाइन करवा रहा है, जो कि भाषात्मक दृष्टि से यहां के विद्यार्थियों के लिए सरल एवं सहज होंगे। प्रत्येक कोर्स लगभग 6-8 सप्ताह एवं 30-36 माॅड्यूल्स का होगा। सभी विद्यार्थियों के लिये यह कोर्स पूर्णतः निःशुल्क होंगे। इस एमओयू के तहत उपलब्ध करवाए जाने वाले कोर्सेस में प्रथम चरण में आरंभिक कम्प्यूटर, एडवांस कम्प्यूटर, मशीन लर्निंग, साइबर सिक्योरिटी, एनीमेशन एवं ग्राफिक्स, डाटा एंट्री, स्पोकन इंग्लिश एंड कम्यूनिकेशन स्किल्स जैसे कोर्स चयनित किए गए हैं।कार्यक्रम में आयुक्त काॅलेज शिक्षा संदेश नायक ने कहा कि राजकीय महाविद्यालयों के साथ-साथ निजी महाविद्यालयों में पढ़ रहे विद्यार्थियों के लिए इस प्रकार की पहली योजना विभाग शुरू करने जा रहा है, इससे सभी महाविद्यालयों के विद्यार्थी लाभ ले सकेंगे। ये कोर्स इसी सत्र से विद्यार्थियों के लिए उपलब्ध हो जाएंगे।कार्यक्रम में बाइडेन नेटवर्क सरबिया यूरोप की सदस्य टीम ऑनलाइन जुड़ी, जबकि काॅलेज शिक्षा अतिरिक्त आयुक्त बीएल गोयल, समन्वयक ट्रिपल आईटी कोटा प्रो. अशोक कुमार व्यास, आयुक्तालय काॅलेज शिक्षा में नवाचार एवं कौशल विकास प्रभारी डाॅ. विनोद भारद्वाज एवं ट्रिपल आईटी कोटा में इस परियोजना के प्रभारी डाॅ. बसंत गुप्ता एवं सह प्रभारी डाॅ. प्रियंका नायक सहित अन्य फैकल्टी उपस्थित रहे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपनी दिनचर्या को संतुलित तथा व्यवस्थित बनाकर रखें, जिससे अधिकतर काम समय पर पूरे होते जाएंगे। विद्यार्थियों तथा युवाओं को इंटरव्यू व करियर संबंधी परीक्षा में सफलता की पूरी संभावना है। इसलिए...

और पढ़ें