पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सांसों पर संकट:161 मरीजों की सांसों पर संकट... ऑक्सीजन प्लांट बंद, चित्तौड़गढ़ से भी सिलेंडर घटाकर 120 किए

बारां11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बारां। जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती मरीज। यहां अब बेड कम पड़ने लगे हैं। - Dainik Bhaskar
बारां। जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती मरीज। यहां अब बेड कम पड़ने लगे हैं।
  • जिला अस्पताल के हालात...180 में से 161 मरीज ऑक्सीजन पर, 25 से ज्यादा का फर्श पर हो रहा इलाज

जिले में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इसके मुकाबले सुविधाएं मिलना, तो दूर ऑक्सीजन और आवश्यक इंजेक्शन की किल्लत ने परेशानी बढ़ा दी है। जिला अस्पताल में कुल 180 मरीज भर्ती हैं, जिनमें से 161 मरीज ऑक्सीजन पर हैं। इनमें भी 25 से ज्यादा मरीजों का फर्श पर इलाज किया जा रहा है। ऐसी विकट परिस्थितियों में ऑक्सीजन प्लांट बंद हो गया है। उसे देर शाम तक इंजीनियर सही करने की कोशिश में लगे थे। चित्तौड़गढ़ से बारां जिला अस्पताल को मिल रहे 170 ऑक्सीजन सिलेंडरों का कोटा घटाकर 120 कर दिया है। बारां के निजी अस्पताल को 50 ऑक्सीजन सिलेंडर दिए जा रहे हैं।

ऐसे में मंगलवार सुबह जिला अस्पताल में ऑक्सीजन के खत्म होने की नौबत आ गई थी। रात को ही पीएमओ, कलेक्टर ने मंत्री, संभागीय आयुक्त से लेकर जयपुर अधिकारियों को कॉल किए। तब कोटा से सिलेंडर और झालावाड़ से 35 सिलेंडर ऑक्सीजन मिली है। अस्पताल में हर दिन 35 सिलेंडर ऑक्सीजन का उत्पादन कर रहे प्लांट में तकनीकी खराबी आने से उत्पादन बंद हो गया। इसे सुचारू करने के लिए मंगलवार देर शाम तक इंजीनियर काम में जुटे थे।

उम्मीद जगी...प्लांट लगाने के लिए अडानी के इंजीनियरों ने देखी साइट पीएमओ डॉ. बिहारीलाल मीणा ने बताया कि अडानी के इंजीनियरों ने मंगलवार को ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए जिला अस्पताल में जगह देखी है। पीएमओ ने करीब 300 सिलेंडर प्रतिदिन ऑक्सीजन क्षमता का प्लांट शुरू करने का अनुरोध किया। जिला अस्पताल में अडानी की ओर से ऑक्सीजन प्लांट लगाया जाना है। ऐसे में यहां जल्द ही प्लांट लगाने की प्रक्रिया शुरू होने की उम्मीद है।

चिंता यह...मरीज बढ़े, आपूर्ति नहीं कब पूरी होगी ऑक्सीजन की कमी जिले में मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। लोगों की ऑक्सीजन की आवश्यकता भी है। इसके मुकाबले आपूर्ति भी नहीं बढ़ रही है। प्लांट में बार-बार खराबी हो रही है। सप्लाई भी निरंतर नहीं है। ऐसे में मरीजों को परेशानी हो रही है। रेमडेसिवर इंजेक्शन भी नाममात्र के उपलब्ध कराए जा रहे हैं। दो दिन में सिर्फ 30 इंजेक्शन बारां को मिल रहे हैं। ऐसे मरीजों का जीवन संकट में है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

    और पढ़ें