पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Baran
  • Despite Exiting Shops In Lottery And Auction And Depositing Security Amount, The Process Of Issuing Allotment Letter Is Not Complete.

6 साल इंतजार के बाद मोटर मार्केट तैयार:लॉटरी व नीलामी में दुकानें निकलने व सिक्यूरिटी राशि जमा करवाने के बावजूद आवंटन पत्र जारी करने की प्रक्रिया पूरी नहीं

बारांएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कई सालों के इंतजार के बाद शहर के शाहाबाद रोड़ पर तैयार हुए मोटर मार्केट शुरू करने को लेकर अभी भी पेंच फंस रहा है। लॉटरी व नीलामी में दुकान निकलने व सिक्यूरिटी राशि जमा करवाने के बावजूद आंवटन पत्र जारी करने की प्रक्रिया पूरी नहीं हुई है। हाल ही नगर परिषद ने नीलामी बोली वाली दुकानों के आंवटन को लेकर प्रक्रिया शुरू की है। दुकानदारों को 30 जून तक पूरी राशि जमा करवाने के निर्देश दिए है।

निर्धारित तिथि तक राशि जमा नहीं करवाने पर नीलामी निरस्त करने की चेतावनी दी है। व्यापारियों ने लॉकडाउन में व्यवसाय ठप रहने के कारण कम समय में ही इतनी रकम जमा करवाने में असमर्थता जताते हुए समयावधि बढ़ाने की मांग की है। मोटर मार्केट शिफ्ट नहीं होने से शहर की सड़क किनारे हो रही वाहन की मरम्मत से यातायात व्यवस्था बिगड़ रही है। इससे शहरवासियों व वाहन चालकों को परेशानी झेलनी पड़ रही है।

गौरतलब है कि नगर परिषद की ओर से साल 2015 में शाहाबाद रोड़ पर मोटर मार्केट तैयार करने के लिए प्रस्ताव तैयार किए थे, लेकिन व्यापारियों व नगर परिषद के बीच विवाद के कारण निर्माण कार्य अटका रहा। नगर परिषद की ओर से फिर से साल 2019 में चिह्नित करीब 16 बीघा जमीन पर मोटर मार्केट तैयार करने को लेकर प्रक्रिया शुरू की गई।

करीब डेढ़ साल पहले मोटर मार्केट निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। निर्माण कार्य पूरा होने के बाद नगर परिषद की ओर से दुकानों के आवंटन को लेकर लॉटरी व नीलामी प्रकिया आयोजित की गई। लॉटरी व बोली में दुकान मिलने पर व्यापारियों से कुल रकम में से 25 फीसदी राशि जमा करवाई थी। एक साल बीतने के बावजूद परिषद की ओर से दुकान आंवटन को लेकर प्रक्रिया पूरी नहीं की गई। पिछले दिनों नगर परिषद ने बोली वाले दुकानदारों को सात दिन में पूरी राशि जमा करवाने के निर्देश दिए थे।

नगर परिषद टीम ने हटाया अतिक्रमण

कलेक्टर राजेंद्र विजय ने दो दिन पहले ही मोटर मार्केट का निरीक्षण किया था। इस दौरान उन्होंने आयुक्त मनोज मीणा को दुकान आवंटन की प्रक्रिया शुरू करने व मूलभूत बिजली, पानी, रोड़ लाईट आदि सुविधाओं को पूरा करने निर्देश दिए था। साथ ही योजना आसपास की जमीन पर हो रहे अतिक्रमणों काे भी हटवाने के निर्देश दिए थे।

इस पर नगर परिषद के अतिक्रमण दस्ते ने शुक्रवार सुबह मौके पर पहुंच अतिक्रमणों को जेसीबी की मदद से हटवाया है। भू माफियाओं ने योजना के पास स्थित खाली भूमि पर चारदीवारी कर अतिक्रमण कर रखा था। जिसे हटवाया है। इस दौरान टीम में एक्सईएन महेंद्र सिंह हाड़ा, एईएन धर्मराज गुर्जर, महेंद्र नागर, परवेंद्र मीणा आदि मौजूद रहे।

व्यापारियों ने की समयावधि बढ़ाने की मांग, लॉटरी वाली दुकानों का आवंटन अटका

नीलामी में दुकाने निकलने वाले दुकानदारों को आवंटन पत्र, रजिस्ट्री के लिए नगर परिषद ने नोटिस जारी किए है। नोटिस के जरिए परिषद ने दुकानदारों को एक सप्ताह के भीतर पूरी रकम जमा करवाने के निर्देश दिए थे। निर्धारित तिथि तक राशि जमा नहीं करवाने पर अमानत राशि जब्त करने की चेतावनी दी गई।

ऐसे में दुकानदारों ने कोरोना काल व लॉकडाउन के दौरान आर्थिक व्यवस्था गड़बड़ाने की बात कहते हुए लाखों रुपए की राशि जमा करवाने के लिए समयावधि बढ़ाने की मांग की है। साथ ही दुकानदारों का कहना है कि मोटर मार्केट में मूलभूत बिजली, पानी, सार्वजनिक रोशनी, दोनों तरफ रास्ते व सभागार तैयार नहीं हुआ है, पहले इन्हें पूरा करवाया जाए।

16 बीघा भूमि पर बनी है 302 दुकानें व भूखंड

शाहाबाद रोड पर मोटर मार्केट योजना के तहत करीब 16 बीघा भूमि पर कुल 302 दुकानों का निर्माण प्रस्तावित किया था। इनमें से 96 दुकानों के लिए खुली नीलामी बोली आयोजित की थी। इनमें करीब 80 दुकानें पक्का निर्माण के साथ तैयार व 16 भूखंड थे। उच्च बोली वाले व्यापारी को दुकान आवंटित होनी थी। 204 दुकानों के लिए परिषद की ओर पब्लिक पार्क में लॉटरी निकाली थी। दुकान आंवटन के लिए लाभार्थियों से 25% राशि बतौर अमानत ली गई है।

शहर की यातायात व्यवस्था होगी बेहतर

कई साल से मोटर मार्केट को लेकर निर्माण प्रक्रिया पर बार-बार अड़ंगा आने से परेशानी बढ़ रही है। ऐसे में अब इसके निर्माण का रास्ता साफ होने से शहरवासियों को भी यातायात समस्या से छुटकारा मिलेगा। दीनदयाल पार्क से अंबेडकर सर्किल तक सड़क पर दुकानों के आगे मिस्त्रियों के कार्य करने से वाहन की भीड़ लगी रहती है। ऐेसे में मोटर मार्केट का निर्माण शुरू होने से यातायात व्यवस्था भी बेहतर हो सकेगी।

खबरें और भी हैं...