नाराजगी:8 दिन तक बिजली बंद, गंदे पानी की सप्लाई अफसर फोन नहीं उठाते, कार्यशैली सुधारें: भाया

बारां3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बाढ़ के हालातों को लेकर खान व गौपालन मंत्री प्रमोद जैन भाया ने ली अधिकारियों की बैठक

जिले में बाढ़ के हालातों को लेकर शनिवार को मिनी सचिवालय स्थित कलेक्टर कक्ष में खान व गौपालन मंत्री प्रमोद जैन भाया ने अधिकारियों की बैठक ली। मंत्री भाया ने कहा कि गांवों में 8-8 दिन से बिजली बंद होने से लोग नारकीय जीवन जी रहे हैं। अधिकारी फोन नहीं उठाते हैं। किसी प्रकार की गलतफहमी में नहीं रहे। बिजली के इंतजामों को तत्काल दुरुस्त किया जाए। पीएचईडी सिटी कार्यालय में कोई अधिकारी नहीं बैठता है। शहर में गंदे पानी की सप्लाई व कई बस्तियों में पानी नहीं पहुंचने से लोग परेशान हैं। लापरवाही बरतने वाले अफसरों सख्त कार्रवाई की जाएगी।

मंत्री भाया ने कहा कि जिले में प्राकृतिक आपदा अतिवृष्टि के कारण फसल, मवेशी, पुल, सड़क, कच्चे व पक्के मकानों के नुकसान समेत जनहानि भी हुई है, जिसकी भरपाई नहीं की जा सकती है। प्रभावितों को संवेदनशीलता व मानवीयता के साथ शीघ्र सहायता व मुआवजा प्रदान करने के लिए तत्परता से कार्य किया जाए। मंत्री भाया ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में प्रदेश सरकार आपदा में आमजन के साथ है और हरसंभव सहायता देने के लिए तत्परता से कार्य कर रही है। इस दौरान विधायक पानाचंद मेघवाल, कलेक्टर राजेंद्र विजय, एसपी विनीत बंसल, सीईओ जिला परिषद कृष्णा शुक्ला, कैलाश जैन, रामप्रकाश चौपड़ा, हंसराज मीणा समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

किसानों को फसल बीमा क्लेम दिलाना सुनिश्चित करें कृषि विभागमंत्री ने भाया ने कहा कि कृषि विभाग उपनिदेशक से कहा कि फसल बीमा कंपनी के उच्च अधिकारी को बारां बुलवाकर कर कलेक्टर के साथ बैठक करते हुए किसानों को बीमा क्लेम का लाभ सुनिश्चित कराए। साथ ही फसलों को नुकसान संबंधी रिपोर्ट शीघ्र प्रदेश सरकार को भिजवाना सुनिश्चित करें।डायवर्जन चैनल के द्वितीय फेज का प्रोजेक्ट भी शीघ्र करें तैयारबैठक में मंत्री भाया ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि बारां शहर के डायवर्जन चैनल का कार्य अधूरा रहने के कारण शहर में जलभराव हुआ है।

इस संबंध में डायवर्जन चैनल के कार्य की प्रगति कोर्ट में स्टे होने के कारण रूकी है। लेकिन संबंधित अधिकारी की ओर से जनहित में इस प्रकरण की कोर्ट में शीघ्र सुनवाई के लिए क्या प्रयास किए गए इसकी रिपोर्ट प्रस्तुत करें। जिससे जिम्मेदार अधिकारी पर कार्रवाई की जा सके। इसके तहत बाढ़ के हालात के मद्देनजर राज्य सरकार को डायवर्जन चैनल के प्रथम फेज के शेष कार्य को पूर्ण करने के साथ ही डायवर्जन चैनल के द्वितीय फेज का प्रोजेक्ट शीघ्र तैयार कर राज्य सरकार को भेजें।

खबरें और भी हैं...