पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मामला दर्ज:लोन उठाने के लिए फर्जी रजिस्ट्री तैयार की दो जनों के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज

बारां7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

प्राइवेट फाइनेंस बैंक से लोन उठाने के लिए नकली सील, फर्जी हस्ताक्षर से रजिस्ट्री के नकली दस्तावेज तैयार करने के मामले में उप पंजीयक की रिपोर्ट पर पुलिस ने धाेखाधड़ी करने का मामला दर्ज किया है। कोतवाली पुलिस के अनुसार उप पंजीयक (तहसीलदार) अब्दुल हफीज ने रिपोर्ट दी है कि ग्राम पंचायत संबलपुर के रारौती निवासी दीपक मीणा पुत्र मेघराज मीणा ने अधिकारियों एवं कर्मचारियों के फर्जी हस्ताक्षर एवं कार्यालय की सीलें, मोहरें तैयार कर फिनो केपिटल फाइनेंस बैंक से लोन के लिए आवेदन किया था। बैंक की ओर से कार्यालय में इस रजिस्ट्री के सत्यापन के लिए भिजवाया था।

कार्यालय के रिकार्ड का अवलोकन किया गया तो आवेदन के साथ पेश रजिस्ट्री के सत्य प्रतिलिपि नंबर एवं रजिस्ट्री नंबर का रिकार्ड कार्यालय में नहीं मिला। इन दस्तावेज पर अंकित सील एवं मोहरें भी कार्यालय की नहीं है। इस प्रकार ग्राम पंचायत लिसाड़िया के आजादपुरा निवासी छीतरलाल पुत्र रामगाेपाल की ओर से फर्जी तरीके से नकली रजिस्ट्री तैयार कर वकील के माध्यम से बैंक से लोन लेने के लिए सत्यापन के लिए उप पंजीयक कार्यालय भिजवाया। कार्यालय में सत्यापन के लिए रिकार्ड का अवलोकन किया गया, तो आवेदक की ओर से रजिस्ट्री नंबर का रिकार्ड कार्यालय में नहीं मिला।

दस्तावेज पर अंकित सीलों एवं मोहरों का अवलोकन किया गया, तो सीलें व मोहरें भी कार्यालय की नहीं हैं। दस्तावेज का 7 अप्रैल को अवलोकन करने पर जानकारी में आया है। दस्तावेज को कूटरचित तैयार किया है। कोतवाली सीआई मांगेलाल यादव ने बताया कि रिपोर्ट पर पुलिस ने रारोती निवासी दीपक मीणा पुत्र मेघराज मीणा आजादपुरा निवासी छीतरलाल पुत्र रामगोपाल एवं इनके सहयोगियों के खिलाफ केस दर्ज किया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इससे कई मामले खुलने की उम्मीद हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आपका संतुलित तथा सकारात्मक व्यवहार आपको किसी भी शुभ-अशुभ स्थिति में उचित सामंजस्य बनाकर रखने में मदद करेगा। स्थान परिवर्तन संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने के लिए समय अनुकूल है। नेगेटिव - इस...

    और पढ़ें