पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पॉजिटिव शून्य:आईसीयू हुआ खाली, आइसोलेशन वार्ड में सिर्फ 20 मरीज

बारां12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जिला अस्पताल आइसोलेशन वार्ड में भर्ती मरीजों की संख्या कम होने से बेड खाली हो चुके हैं। - Dainik Bhaskar
जिला अस्पताल आइसोलेशन वार्ड में भर्ती मरीजों की संख्या कम होने से बेड खाली हो चुके हैं।
  • 188 सेंपल में एक भी पॉजिटिव नहीं, कोरोना से 45 जने हुए रिकवर, जिले में अब 174 केस ही एक्टिव

आदित्य शर्मा | जिले को दो महीने बाद कोरोना से राहत की खबर मिली है। चिकित्सा विभाग की ओर से 188 सेंपल की रिपोर्ट में एक भी केस पॉजिटिव नहीं मिला है। वहीं 45 जने रिकवर हुए हैं। अब जिले में 174 केस ही एक्टिव हैं। जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में 20 जने भर्ती होने से 175 ऑक्सीजन बेड खाली हैं। वहीं जिला अस्पताल के आईसीयू में एक भी केस भर्ती नहीं है। जिले में अप्रैल की शुरुआत से कोरोना ने दस्तक दी और मई आते-आते विकराल रूप हो गया। कई लोगों को कोरोना संक्रमण की गिरफ्त में आने से जान गंवानी पड़ी है। कई लोगों को सगे, संबंधी, परिजन मित्रों को खोना पड़ा है।

दो महीने तक पीक पर रहा कोरोना संक्रमण लॉकडाउन के बाद धीरे-धीरे कमजोर हो गया है। जून की शुरुआत से ही कोरोना में उल्लेखनीय उतार शुरू हो गया था। रविवार को एक भी केस पॉजिटिव नहीं मिलने से प्रशासन, चिकित्सा विभाग और आमजन ने राहत की सांस ली है।डिप्टी सीएमएचओ डॉ. राजेंद्र कुमार मीना ने बताया कि 188 सेंपलों की जांच रिपोर्ट में एक भी केस पॉजिटिव नहीं है। वहीं 45 जने रिकवर होने से जिले में सिर्फ 174 केस एक्टिव हैं। सीएमएचओ डॉ. संपतराज नागर ने बताया कि जिले में कोरोना संक्रमण का असर कमजोर हो रहा है। सभी मास्क पहनना, सोशल डिस्टेंसिंग और नियमित रूप से हाथ धोने की आदत हो बनाएं रखें।

अतिरिक्त 40 बेड हटाए, आईसीयू बेड भी खाली जिला अस्पताल पीएमओ डॉ. बिहारीलाल मीणा ने बताया कि कोरोना केस लगातार कम हो रहे हैं। जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में 175 ऑक्सीजन बेड खाली हैं। अभी सिर्फ 20 जने ही भर्ती हैं। आईसीयू में एक भी मरीज भर्ती नहीं है। अस्पताल में अतिरिक्त रूप से लगाए गए 40 बेड हटा लिए गए हैं। अब लोग जिम्मेदारी समझते हुए मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग और हाथ धोने की आदत की कड़ाई से पालना करें। कहीं भी भीड़ नहीं लगाएं।

खबरें और भी हैं...