बच्चे को तलाशने तांत्रिक को लेकर पहुंची भरतपुर पुलिस:एक महीने पहले गायब हुआ था डेढ़ साल का बच्चा, तांत्रिक क्रिया की जताई आशंका

बारां9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भरतपुर की बेर थाना पुलिस की टीम डेढ़ साल के मासूम को तलाशते हुए बारां के छबड़ा पहुंची। - Dainik Bhaskar
भरतपुर की बेर थाना पुलिस की टीम डेढ़ साल के मासूम को तलाशते हुए बारां के छबड़ा पहुंची।

भरतपुर जिले के बेर थाना पुलिस की एक टीम डेढ़ साल के मासूम को तलाशते हुए रविवार को बारां के छबड़ा आई है। डीवाईएसपी के नेतृत्व में पहुंची टीम हिरासत में एक तांत्रिक को भी साथ लाई है। करीब एक महीने पहले गायब हुए बच्चे के किडनैप में तांत्रिक पर शक है। तांत्रिक के तार बारां से जुड़े होने के कारण टीम यहां आकर बच्चे के बारे में लोगों से पूछताछ कर रही है।

बेर थानाधिकार सुमेर सिंह ने बताया कि 18 दिसम्बर को नगला गांव के रहने वाले बलवीर जाटव का डेढ़ साल का बेटा गोलू अचानक गायब हो गया। बेर थाने में पिता ने मासूम की गुमशुदगी दर्ज करवाई। रिपोर्ट में बताया कि सुबह करीब 11 बजे घर के पास में स्थित खेत पर परिवार के साथ गया था। बच्चे को घर पर ही छोड़कर गए थे। वापस लौटने पर बेटा घर पर नहीं मिला। पुलिस ने बच्चे की तलाश शुरू की तो गांव के एक तांत्रिक पर शक हुआ। पुलिस ने तांत्रिक को हिरासत में लेकर पूछताछ की। तांत्रिक के तार बारां के छबड़ा से जुड़े होने का पता चला। बच्चे को तलाशते हुए तांत्रिक को लेकर छबड़ा आए। छबड़ा में पहुंचकर लोगों से पूछताछ की जा रही है। शक है कि बच्चे की गुमशुदगी के पीछे कहीं तांत्रिक क्रिया तो नहीं है, इसकी छानबीन की जा रही है।