समस्या / 40 लाख लीटर लुढ़क गया पानी का उत्पादन, 15 दिन से शहर के कई इलाकों में जलसंकट

Production of 40 lakh liters of rolled water, waterlogging in many areas of the city since 15 days
X
Production of 40 lakh liters of rolled water, waterlogging in many areas of the city since 15 days

दैनिक भास्कर

May 29, 2020, 05:00 AM IST

बारां. इस भीषण गर्मी में शहर की जलापूर्ति में पिछले 15 दिन से व्यवधान आने के कारण कई इलाकों में त्राहिमाम की स्थिति बन गई है। शहर को 1 करोड़ 70 लाख लीटर पानी की आवश्यकता के मुकाबले पाठेड़ा फिल्टर प्लांट से 1 करोड़ 30 लाख लीटर पानी ही पहुंच रहा है। ऐसे में हर दिन 40 लाख लीटर पानी की कमी के कारण शहरवासी परेशान हो रहे हैं। जलदाय विभाग के अफसरों ने दावा किया है कि गुरुवार को बिजली ट्रिपिंग और वोल्टेज में आ रहे उतार-चढ़ाव की समस्या को पैनल दुरुस्त कराकर सही कर दिया गया है। ऐसे में शुक्रवार से पानी की सप्लाई सुचारू रहेगी।
शहर में करीब 15 दिनों से कहीं पर कम दबाव से और कुछ देर पानी पहुंचने की शिकायत है, तो कहीं पर एक दिन छोड़कर दूसरे दिन नलों से पानी टपक रहा है। जलदाय विभाग के अफसर हीकड़दह इंटेकवेल और पाठेड़ा पंप हाउस पर बिजली सप्लाई में ट्रिपिंग, वोल्टेज में उतार-चढ़ाव की समस्या के कारण मोटरों के बार-बार बंद चालू होने से दिक्कत बता रहे थे। पाठेड़ा फिल्टर प्लांट की क्षमता 2 करोड़ 10 लाख लीटर पानी की है। वर्तमान में शहर में करीब साढ़े 14 हजार कनेक्शनों के हिसाब से 1 करोड़ 70 लाख लीटर पानी की प्रतिदिन आवश्यकता है। इसके मुकाबले करीब 1 करोड़ 30 लाख लीटर पानी पहुंच रहा है। ऐसे में कभी इधर की कॉलोनी के नल नहीं टपक रहे, ताे कभी उधर की कॉलोनियों के नलों में पानी नहीं आ रहा है। लोग मामले में अधिकारियों से लेकर जनप्रतिनिधियों तक शिकायत कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि गर्मी परवान पर होने से निरंतर पानी की जरूरत बढ़ रही है। इसके हिसाब से सप्लाई नहीं हो रही है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना