पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

लापरवाही:किले का रियासतकालीन रास्ता शुरू करो, बिगड़ने नहीं देंगे धरोहर का स्वरूप

बारां2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शाहाबाद किले में 4.80 करोड़ की लागत से हो रहे विकास के काम में लापरवाही

जिले के शाहाबाद किले में रिनोवेशन के काम हो रहे हैं। इतिहासविदों और आमजन ने कस्बे से जुड़े रियासतकालीन मार्ग का काम प्रारंभ करने की मांग की है। कोटा के इतिहासविद फिरोज अहमद का कहना है कि किले में हो रहे कार्यों के टेक्निकल एक्सपर्ट मौजूद रहे। किले में लगे मटेरियल की जांच के बाद उसी अनुपात में रिनोवेशन में सामग्री लगाई जाए। एतिहासिक स्वरुप से छेड़छाड़ गलत है। शाहाबाद में एतिहािसक स्थल है, ऐसे में रियासतकालीन मार्ग को जोड़ा जाए।

डॉ. मधुकांत दुबे का कहना है कि शाहाबाद में तपस्वीजी की बगीची, रानी बाग, शाही जामा मस्जिद कई दर्शनीय स्थल है। पहाड़ियों पर सिद्ध छतरियां है। एडवोकेट सुरेंद्र सिंह शक्तावत, द्वारकालाल मेहता, राजमल मेहता, भरत सिंह जादौन, कल्याण सिंह मेहता, मजबूत सिंह यादव, भुवनेश तिवारी आिद ने किले में सफाई शुरू करवाने की मांग की है।

इंटैक की टीम करेगी किले का निरीक्षण
बारां इंटैक कन्वीनर जितेंद्र शर्मा ने बताया कि शाहबाद में चल रहे किले के जीर्णोद्धार एवं संरक्षण में अनियमितता का मामला दैनिक भास्कर की ओर से उठाने पर रविवार को लेकर इंटैक के स्टेट को कन्वीनर हरि सिंह पाल ने वार्ता की। उन्होंने बताया कि वहां केवल रेस्टोरेशन एवं कंजर्वेशन की निर्धारित प्रक्रिया से ही कार्य हो सकता है।

शाहबाद का किला एक प्राचीन एवं भव्य विरासत है। ऐतिहासिक धरोहर को इस तरह नहीं बिगड़ने दिया जाएगा उन्होंने इंटैक कन्वीनर जितेंद्र शर्मा को निर्देश दिए की शाहबाद किले की विजिट करके एक रिपोर्ट तैयार की जाए, जिसमें फोटोग्राफ भी हो। इंटैक टीम शाहाबाद में चल रहे कार्य का विश्लेषण करके निदेशक पुरातत्व, संबंधित अधिकारियों एवं केंद्रीय कार्यालय को अपनी रिपोर्ट भेजेगी।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में रहेगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा। पिछले कुछ समय से चल रही किसी समस्या का समाधान मिलने से राहत मिलेगी। कोई बड़ा निवेश करने के लिए समय उत्तम है। नेगेटिव- परंतु दोपहर बाद परिस...

और पढ़ें