पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

प्रमाणीकरण:जिले के किसानों को मिली 166.42 करोड़ की सम्मान निधि, 7600 के दस्तावेजों का प्रमाणीकरण होना बाकी

बारां8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले के किसानो को किसान सम्मान निधि के तहत 166.42 करोड़ रुपए मिले हैं। क्षेत्रीय विधायक पानाचंद मेघवाल के प्रयासों व नियमित माॅनिटरिंग से बारां जिले के किसानो को तेजी से किसान सम्मान निधि का लाभ मिलने लगा है। गौरतलब है कि विधायक मेघवाल ने इस मामले को विधानसभा में उठाया था व नियमित रूप से अधिकारियों को इस संबध में निर्देश दे रहे थे। इससे किसानों के दस्तावेज, आधार प्रमाणीकरण का कार्य तेजी से पूरा हुआ। जिले में अब केवल 7 हजार 600 किसानों के ही दस्तावेज और आधार प्रमाणीकरण का काम होना शेष है। यह जानकारी बारां विधायक पानाचंद मेघवाल के विधानसभा प्रश्न के जवाब में राज्य सरकार ने दी है।विधायक मेघवाल के विधानसभा प्रश्न के जवाब में सरकार ने अवगत करवाया की बारां जिले मे 1 लाख 97 हजार 792 कृषकों की ओर से किसान सम्मान निधि योजनांतर्गत आवेदन किया गया। सत्यापन के बाद 1 लाख 90 हजार 192 पात्र कृषकों का आवेदन पीएम किसान पोर्टल पर अपलोड किया गया तथा राज्य के 65 लाख 69 हजार 140 कृषकों का आधार वेरीफिकेशन का काम पूरा हो चुका है। योजनांतर्गत बारां जिले मे 1 लाख 97 हजार 792 किसानों ने आवेदन किया, जिसके अनुरूप 1 लाख 90 हजार 192 कृषकों का प्रमाणीकरण सरकार के स्तर पर किया जा चुका है। शेष 7 हजार 600 किसानों के दस्तावेजों का प्रमाणीकरण होेना अभी शेष जो पटवारी, तहसीलदार, कलेक्टर स्तर पर प्रक्रियाधीन है। प्रमाणीकरण का कार्य एक सतत प्रक्रिया है एवं सुचारू रूप से जिलों मे जारी है। बारां जिले में किसान सम्मान निधि योजनांतर्गत 449 शिकायतें प्राप्त हुई है, जिनका निस्तारण कर दिया गया है। बारां जिले के किसानों को किसान सम्मान निधि येाजना की प्रथम किश्त में 33.41 करोड, दूसरी किश्त में 33.98 करोड़, तृतीय किश्त में 31.07 करोड़ रुपए, चतुर्थ किश्त में 27 करोड़, पंचम किश्त में 22.92 करोड़ एवं छठी किश्त में 17.04 करोड़ रुपए का भुगतान किया जा चुका है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय पूर्णतः आपके पक्ष में है। वर्तमान में की गई मेहनत का पूरा फल मिलेगा। साथ ही आप अपने अंदर अद्भुत आत्मविश्वास और आत्म बल महसूस करेंगे। शांति की चाह में किसी धार्मिक स्थल में भी समय व्यतीत ह...

और पढ़ें