पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दूषित पानी से बीमारियों की आशंका:पेयजल लाइन में रिसाव से गंभीर बीमारियों की आशंका

बारां8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शहर की 40 प्रतिशत आबादी वाले तेलफैक्ट्री क्षेत्र की रामनगर काॅलोनी, डंडोतिया की बाड़ी, नाकोड़ा काॅलोनी व गाड़िया काॅलोनी के बाशिंदें घरों पर दूषित पानी पहुंचने की समस्या से परेशान हैं। लोगों का आरोप है कि जलदाय विभाग की लापरवाही से स्वास्थ्य संबंधी गंभीर खतरा पैदा हो गया है। भाजपा के पूर्व उप जिलाध्यक्ष सुशील कुमार पंजाबी (कोहली) ने शनिवार कहा कि जलदाय विभाग की स्वच्छ पेयजल वाली पाईप लाइन में रामनगर नाले के गंदे पानी का रिसाव होने से पिछले डेढ़ वर्ष से इस आबादी के लोगों को मजबूरन गंदा पानी पीना पड़ रहा है। जिससे कोरोना काल में स्वास्थ्य पर गंभीर प्रभाव पड़ने की आशंका है।

पूर्व पाषद सुशील कोहली ने बताया कि मोहल्लेवासियों समेत वे कई बार संबंधित अधिकारियों से मुलाकात कर इस समस्या से अवगत करा चुके हैं। लेकिन नगर परिषद व पीएचईडी ने इस समस्या के निराकरण के लिए कोई ध्यान नहीं दिया। पाईप लाइन मंे रिसाव के कारण तेल फैक्ट्री के इन वार्डों व काॅलोनियों में प्रदूषण फैल रहा है। सरकार का स्वच्छता अभियान भी महज कागजों में सिमट कर रह गया है। मोहल्लों में जगह-जगह गंदगी के ढेर लगे हुए हैं। लाइनों के रिसाव के कारण दूषित पानी घरों में जा रहा है। जिससे लोग कोरोना काल में जलजनित गंभीर बीमारियों के शिकार हो रहे हैं। पूर्व पार्षद कोहली ने चेतावनी दी है कि शीघ्र ही समस्या का समाधान नहीं किया तो आंदोलनात्मक कदम उठाया जाएगा।

खबरें और भी हैं...