एक साल की चिंता खत्म...:बूंदी के बांधों में 8737.52 मिलियन क्यूबिक फीट पानी जमा, हमारी सालभर की सिंचाई जरूरतों के लिए काफी

बूंदी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले में अब तक हो चुकी 1027 मिमी बारिश, औसत से 259.37 मिमी ज्यादा

मानसून विदाई की तैयारी में है, पर इस बार उसने बांधों में इतना पानी भर दिया कि जिले के किसानों को एक साल तक फसल सिंचाई के लिए पानी की चिंता करने की जरूरत नहीं। जिले के सभी बांध, तालाब, झीलें लबालब हैं। इनमें 29 सितंबर तक 8737.52 मिलियन क्यूबिक फीट पानी स्टोरेज है। इनसे हमारे किसान भाइयों की फसल सिंचाई की जरूरत पूरी हो जाएगी। इस मानसून सीजन में औसत बारिश 1000 एमएम का आंकड़ा पार कर चुकी है।

यह बहुत अच्छी बरसात है। जिले में मंगलवार तक 1027 मिमी बारिश हो चुकी है, जाते-जाते मानसून कुछ और मेहरबानी कर सकता है।जिले के सात में से तीन ब्लॉक केपाटन, बूंदी, नैनवां में आंकड़ा 1000 एमएम पार हो चुका है। केपाटन में रिकॉर्ड तोड़ बारिश हुई है। वहां अब तक 1416 एमएम औसत बारिश हो चुकी है, जो जिले में बारिश के औसत से डबल है। जिले की 10 साल की बारिश का औसत 767.63 एमएम है। गत साल 510.50 एमएम ही बारिश हुई थी, पर इस साल कसर निकल गई।

खबरें और भी हैं...