चाेर गिरफ्तार:माेबाइल की दुकान साफ करने पर नकबजन गिरफ्तार, बिना नंबर की बाइक से आ रहा था

बूंदीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • चाेरी की दूसरी वारदातें खुलने की उम्मीद में पुलिस की पूछताछ जारी

पुलिस ने नाकाबंदी के दौरान कोटा-बिजोलिया की ओर जा रही बिना नंबर की बाइक के चालक शैलेंद्र कहार उर्फ शिवा पुत्र राधेश्याम उर्फ पप्पू कहार (कश्यप) को रोककर पूछताछ की। उसके जवाब से संतुष्ट नहीं हाेने पर पुलिस ने संदिग्ध मानकर उसे गिरफ्तार कर लिया। जिसके पास से लाखों रुपए के चोरी के मोबाइल जब्त किए गए हैं। आराेपी शैलेंद्र कहार उर्फ शिवा चंदाेलीपुरा-मंडराय (कराैली) का मूल रहने वाला है और नई बस्ती, सरमथुरा (धौलपुर) में रहता है।

थानाप्रभारी महेशकुमार ने बताया कि डाबी में रह रहे बिजोलिया (भीलवाड़ा) निवासी सुरेश धाकड़ पुत्र घांसीलाल धाकड़ ने 9 जनवरी को रिपोर्ट दी थी, जिसमें बताया कि वह मोबाइल की दुकान लगाता है। 7 जनवरी की शाम को अपनी दुकान बंद करके घर पर चला गया था। दूसरे दिन सुबह दुकान खोलकर देखा तो सामान बिखरे हुए थे। दुकान के पीछे की दीवार में छेद हो रहा था। दुकान के सामान चैक किए तो कई मोबाइल, नकदी व रिपेयरिंग के पुराने मोबाइल, मैमोरी कार्ड, पेनड्राइव नहीं मिले। पुलिस ने रिपाेर्ट के आधार पर केस दर्ज कर तफ्तीश की।

डाबी पुलिस ने तकनीकी विश्‍लेषण व मुखबिर से मिली सूचनाओं की तस्‍दीक कर आरोपी शिवा को पकड़ने के लिए टीमें चंदोलीपुरा-कराैली, सरमथुरा-धाैलपुर व कोटा भेजी गई थी, लेकिन आराेपी पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा। पुलिसकर्मी तभी से उसकी तलाश में थे। अब सोमवार को कोटा से बिजोलिया की तरफ बाइक से जाने की सूचना मिली। इस पर पुलिसकर्मी डाबी हाइवे पर नाकाबंदी के दौरान आरोपी को डिटेन कर थाने लाए। पूछताछ में आरोप स्‍वीकार करने पर गिरफ्तार किया गया। आरोपी से प्रकरण वांछित एक चोरी गया मोबाइल व बिना नंबरी बाइक जब्‍त कर शेष माल व दूसरी चाेरियाें के बारे में पूछताछ जारी है।

खबरें और भी हैं...