पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Bundi
  • Now Relief Will Be Provided ... Boats From Gudhabandh To Remove Dirt From Navalasagar Lake, Experienced Workers Will Start Cleaning, 7000 People Of The City Will Get Rid Of Bad Smell

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भास्कर मुद्दा:अब मिलेगी राहत...नवलसागर झील से गंदगी हटाने के लिए गुढ़ाबांध से नावें मंगवाईं, अनुभवी श्रमिक शुरू करेंगे सफाई, शहर के 7 हजार लोगों को मिलेगी दुर्गंध से निजात

बूंदीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गंदे नालों का पानी झील में आने और दुर्गंध से लोगों का है जीना मुहाल, अब जाकर खुली नगर परिषद की नींद

शहर की नवलसागर झील की सफाई अब संभव हो सकेगी। झील के पानी की सतह पर तैर रही गंदगी को निकलवाने के लिए गुढ़ाबांध से नावें मंगवाई गई हैं। उम्मीद है कि मंगलवार से नावों से गंदगी को बाहर निकालने का काम शुरू हो जाएगा। इसके लिए नगर परिषद प्रशासन ने अनुभवी मजदूर बुलवाए हैं। गौरतलब है कि 22 अक्टूबर को भास्कर ने लोगों की बड़ी समस्या नवलसागर से उठ रही दुर्गंध को लेकर खबर का प्रकाशन किया था। इसमें 7 हजार लोगों की परेशानी को उजागर किया गया था। इसके बाद नगर परिषद के अधिकारियों की नींद खुली और अब जाकर झील की सफाई को लेकर कदम बढ़ाया गया।क्षेत्रवासियों को राहत पहुंचाने के लिए नगर परिषद ने पिछले दिनों गंदगी से उठी रही दुर्गंध से परेशान झील में चूना पाउडर डलवाया था। इससे पानी फट गया और नीचे की गंदगी भी ऊपर आकर किनारों पर जम गई। अब हवा के साथ गंदगी कभी इस किनारे पर तो कभी उस किनारे पर तैरती दिखाई दे रही है। क्षेत्रवासियों का कहना है कि चूना पाउडर का असर समाप्त होते ही फिर से गंदगी से दुर्गंध उठने लगेंगी। ऐसे में स्थाई समाधान होना चाहिए। नगर परिषद आयुक्त ने मत्स्य विभाग के अधिकारियों से संपर्क कर गुढ़ाबांध से नावें मंगवाई हैं। इन नावों के माध्यम से अनुभवी मजदूर गंदगी को बाहर निकालेंगे।^ क्षेत्रवासियों को तुरंत राहत देने के लिए चूना पाउडर डलवाया गया था। गंदगी को बाहर निकलवाने के लिए नावें मंगवाई गई हैं। मंगलवार से अनुभवी श्रमिक इस काम को शुरू कर देंगे। गंदे पानी के नालों को बंद करने के लिए मुआयना किया जाएगा।महावीरसिंह, आयुक्त, नगर परिषद

खास यह...हाड़ौती का बेहतरीनपर्यटन स्थल है नवलसागर झील बाईपास रोड पर खड़े होकर देखने पर झील का सौंदर्य देखते ही बनता है। यह अलग बात है कि इस बार बरसात कम होने से झील नहीं भर पाई। अन्यथा झील के पानी में किले व महलों का अक्स साफ दिखाई देता है। यह नजारा पहली बार बूंदी को देखने वालों को काफी आकर्षित करता है। अधिकांश पेइंग गेस्टहाउस बालचंदपाड़ा क्षेत्र में ही हैं।इस बार झील नहीं हुई ओवरफ्लो : इस बार बरसात की कमी के कारण झील में पानी नहीं आया। थोड़ा पानी तो पिछले साल का बचा हुआ था और बाकी मामूली बरसात के दौरान आया। पानी नया पुराना नहीं हो पाने से एक ही जगह स्थिर हो गया। वहीं, गंदे नालों का पानी भी झील में ही आ रहा है, जिससे गंदगी से दुर्गंध उठने लगी। अच्छी बरसात हो जाती तो झील का नाला लग जाता और गंदगी भी बह जाती।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- रचनात्मक तथा धार्मिक क्रियाकलापों के प्रति रुझान रहेगा। किसी मित्र की मुसीबत के समय में आप उसका सहयोग करेंगे, जिससे आपको आत्मिक खुशी प्राप्त होगी। चुनौतियों को स्वीकार करना आपके लिए उन्नति के...

और पढ़ें