अच्छी पहल:अब अफसर रोज सुबह 7 बजे वार्डों में जाकर देखेंगे सफाई

बूंदी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर की सफाई व्यवस्था चाक-चौबंद करने के लिए कलेक्टर रेणु जयपाल ने अधिकारियों की ड्यूटी वार्डों में लगाई है। ये अधिकारी आवंटित वार्डों में रोजाना सुबह 7 बजे जाएंगे और वहां सफाई व्यवस्था देखेंेगे, साथ ही वहां के फोटो सोशल मीडिया ग्रुप में डालेंगे।नगरपरिषद आयुक्त से तालमेल कर सफाई करवाएंगे। सफाई व्यवस्था के निरीक्षण के लिए कलेक्टर ने वार्डों में अधिकारियों की ड्यूटी लगाई है। कलेक्टर ने बीती शाम शहर का दौरा कर सफाई सहित अन्य व्यवस्थाओं का जायजा लिया था।शहर के वार्ड और लगाए गए निरीक्षण अधिकारीसमग्र शिक्षा के एपीसी ऋषिराज शर्मा को वार्ड नं-1, 8, 9, 10, 59, 60 की, महिला अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक भैरूप्रकाश नागर को वार्ड-34, 35, 36, 56, 57, 58 की, डीईओ प्रारंभिक गिरिराजपसाद राठौर को वार्ड-11, 12, 13, 14, 15, 33 की,जिला खेल अधिकारी वाईबीसिंह को वार्ड-30, 31, 32, 37, 38 की, खनि अभियंता-2 प्रकाश माली को वार्ड-2, 3, 4, 5 की जिम्मेदारी दी गई है। वहीं सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक के सहायक निदेशक जगदीशप्रसाद चावंरिया को वार्ड-6, 7,16 की, खनि अभियंता-फर्स्ट प्रभुलाल सरोया को वार्ड-17, 18, 19, 20 की, छत्रपुरा कृषि फॉर्म के उपनिदेशक खेमराज शर्मा को वार्ड-21, 22, 23, 24 की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

इसी तरह सहायक निदेशक उद्यान रामप्रसाद मीणा को वार्ड-25, 26, 27, 28, 29 की श्रम कल्याण अधिकारी विपिन काला को वार्ड-39, 40, 41, 42, 43 की, नेहरू युवा केंद्र के युवा समन्वयक कशिश जेठवानी को वार्ड-44, 45, 46, 47, 48, 49 की, राज्य बीमा एवं प्रावधायी निधि के सहायक निदेशक संदीपकुमार त्रिपाठी को वार्ड-50, 51, 52, 53, 54, 55 की जिम्मेदारी सौंपी गई है।अधिकारियों को निरीक्षण ही नहीं, सफाई भी सुनिश्चित करनी होगीकलेक्टर की ओर से जारी अादेश में लिखा गया है कि निरीक्षण अधिकारी निरीक्षण के बाद अपने आवंटित वार्डों में सफाई व्यवस्था में कमी पाए जाने पर कमी को दुरुस्त करने के लिए नगरपरिषद आयुक्त को बताकर सफाई करवाना सुनिश्चित करेंगे।

खबरें और भी हैं...