आजादी का अमृत महोत्सव पर 'रंग दे बसंती' वर्कशॉप:75 फीट कैनवास पर अमर शहीदों के लिए पेंटिंग, DM रेणु जयपाल ने भी चलाई ब्रश

बूंदी9 महीने पहले
आजादी का अमृत महोत्सव पर 'रंग दे बसंती' वर्कशॉप में 75 फीट कैनवास पर अमर शहीदों के लिए पेंटिंग।

बूंदी कलेक्टर जयपाल ने आजादी के अमृत महोत्सव के तहत बूंदी ब्रश संस्थान की ओर से आर्ट गैलरी में आयोजित 'रंग दे बसंती' कार्यशाला का केनवास पर ब्रश चला कर शुभारंभ किया। यहां 75 फीट लंबे कैनवास पर बूंदी ब्रश के कलाकार कलाकृतियां बना रहे है। इस अवसर पर स्टूडेंट्स की पेंटिंग का भी कलेक्टर ने अवलोकन कर प्रतियोगियों का हौसला बढ़ाया। गौरतलब है कि छोटी काशी बूंदी को यहां की चित्रकारी के लिए भी पूरे देश प्रदेश में जाना जाता है।

कलेक्टर रेनू जयपाल ने कहा कि मैंने खुद भी कूची चलाकर आजादी के अमृत महोत्सव में कलाकारों का हौसला बढ़ाया है। बूंदी ब्रश संस्था की चित्रकार युक्ति शर्मा और नंद प्रकाश शर्मा ने बताया कि देश में आजादी के 75 वें साल पर अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। पूरे देश भर में अमृत महोत्सव को लेकर उत्साह भी है। बूंदी ब्रश संस्थान ने पहल करते हुए आजादी के 75 साल पर 75 फीट लंबी कैनवास पर आजादी की लड़ाई लड़ने वाले अमर जवान शहीदों और विरासत को उकेरने का काम किया है। किसी ने तिरंगा बनाया, तो किसी ने महाराणा प्रताप, शिवाजी, किसी ने युद्ध लड़ते सैनिक बनाएं। सुबह से शुरू हुआ ये कारवां दिनभर चलता रहा और 75 फीट लंबे इस कैनवास पर इन पेंटर्स ने रंग बिरंगे पेंटिंग बना दिए। इन पेंटर्स को देख शहर वर्ग के लोग बूंदी आर्ट गैलरी के बाहर पहुंचे और इनका उत्साह बढ़ाते हुए नजर आए।

खबरें और भी हैं...