पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अनुकरणीय पहल:सोच को सलाम...अभी बड़ा काम कोरोना को रोकने का है, इसलिए हमारे युवा टाल रहे हैं अपनी शादी

बूंदी8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना की रफ्तार को देख युवा जोड़ाें ने शादी कैंसिल की
  • युवाओं की यह है सोच...धूमधाम की शादी से बड़ा काम इस महामारी से जीतना है

कोरोना की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए युवा जोड़े ने अनुकरणीय पहल कर अपनी शादी कैंसिल कर दी। नैनवां से 15 किमी दूर ढाढूण गांव के युवा रामलाल मीणा (जेल प्रहरी-कोटा) की शादी 20 मई को चांदनहेली निवासी वर्तिका से होने वाली थी, लेकिन बढ़ते संक्रमण और अस्पतालों में हो रही दुर्दशा को देखते हुए रामलाल और वर्तिका ने शादी बाद में करने का निर्णय लिया।रामलाल के भाई शिक्षक रामप्रसाद मीणा ने बताया कि शादी के लिए कार्ड छप चुके थे, टेंट, हलवाई, डीजे और जरूरी चीजें बुक करवा दी थी, लेकिन मुख्यमंत्री ने इस तरह से अपील की तो लगा कि अभी शादी से बड़ा काम कोरोना को रोकना है, इसलिए परिजनाें को कह दिया कि फिलहाल शादी नहीं करेंगे। जब तक कोरोना बिल्कुल कम या खत्म नहीं हो जाता, तब तक शादी नहीं करेंगे।

इसी प्रकार देई क्षेत्र के देवरिया निवासी शिक्षक सुरेश मीणा जैसाणा ने अपनी शादी को टाल दिया। सुरेश की शादी 26 मई को होनी थी। परिस्थितियों को देखते हुए शादी नहीं करने का फैसला कर परिजनों को बताया और वधू पक्ष से बात की तो उन्होंने भी इस पहल का समर्थन दिया। सुरेश ने बताया कि मम्मी-पापा अपनी संतान का विवाह करने के लिए एक-एक रुपया जोड़ते हैं, लेकिन वर्तमान समय में महामारी के चलते शादियों में धन का सदुपयोग नहीं हो रहा है।अनुमति से ज्यादा मेहमान होते ही जुर्माना देना पड़ रहा है, इसलिए उन्होेंने शादी को टाल दिया। साथ ही दूसरे लोगों से भी शादी टालने की अपील की है। इन दाेनाें युवा जाेड़ाें ने आमजन काे संदेश दिया है कि कोरोनाकाल में हर शहर व गांव में हाहाकार मचा हुआ है। अस्पताल में बेड, ऑक्सीजन व दवाइयां नहीं मिल रही है। ऐसे समय में विवाह करना लोगों की जिंदगी को संकट में डालकर खुशियां नहीं गम देना है। शादी जैसे शुभ कार्य पर सिर्फ मंगल होना चाहिए, अमंगल नहीं।

इधर, शादी टालने पर एसडीएम से परिवार को मिला प्रशस्ति-पत्र

केशवरायपाटन. कोरोना के कहर को देखते हुए जयस्थल गांव में 7 मई की अपनी बेटी की प्रस्तावित शादी को परिवार ने निरस्त कर दिया। जयस्थल के रघुवीर पारेता ने बेटी सविता की शादी की सभी तैयारी पूरी कर ली थी। शादी के लिए प्रशासन से पूर्व में स्वीकृति भी ले ली थी। एसडीएम एचडीसिंह ने बताया कि सीएम के आह्वान को प्रशासन ने परिजनों के सामने रखा गया। समय व हालात पर विचार कर पारेता परिवार ने उसे स्वीकार कर लिया। गांव में मिसाल पेश करने पर एसडीएम ने प्रशंसा-पत्र जारी किया। जिसको तहसीलदार रवि शर्मा जयस्थल लेकर पहुंचे और पारेता को देकर सम्मानित किया। एसडीएम ने बताया कि इस पहल का दूसरे ग्रामीणाें को भी अनुसरण करना चाहिए, ताकि कोरोना संक्रमण को बढ़ने से रोका जा सके।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आज की स्थिति कुछ अनुकूल रहेगी। संतान से संबंधित कोई शुभ सूचना मिलने से मन प्रसन्न रहेगा। धार्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करने से मानसिक शांति भी बनी रहेगी। नेगेटिव- धन संबंधी किसी भी प्रक...

    और पढ़ें