• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Bundi
  • Shortage Of Medicines Due To Non payment From Treasury Office, Medicines Are Not Available, Pensioners Have To Return Without Medicines

पेंमेट नहीं होने पर दवाई की सप्लाई बंद:कोष कार्यालय से भुगतान नहीं होने से दवाइयों की शॉर्टेज, नहीं मिल रही दवा, पेंशनरों को बिना दवा लौटना पड़ रहा

बूंदी20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
उपभोक्ता भंडार की दवा की दुकान। - Dainik Bhaskar
उपभोक्ता भंडार की दवा की दुकान।

बूंदी जिले के सेवानिवृत्त कर्मचारियों को दवा के लिए सहकारी उपभोक्ताओं को होलसेल भंडार के चक्कर काटने पड़ रहे हैं। रोगी पेंशनरों को दवा के लिए भटकना पड़ रहा है। रोगी पेंशनर दवा के लिए उपभोक्ता भंडार की दवा की दुकानों पर जाते हैं। लेकिन, उन्हें बिना दवा के वापस लौटना पड़ रहा है। हालात यह है कि बीते कई दिनों से वृद्ध पेंशनर इस पीड़ा का सामना कर रहे हैं। उसके बाद भी उनकी समस्या का कोई भी समाधान नहीं कर रहा है।

जानकारी के अनुसार मार्च महीने के बाद से जिला कोषाधिकारी कार्यालय ने बूंदी सहकारी उपभोक्ता होलसेल भंडार को भुगतान नहीं किया। इस कारण बूंदी भंडार ने भी दवा विक्रेताओं को दवा खरीद का भुगतान नहीं किया। ऐसे में भुगतान नहीं होने से दवा विक्रेताओं ने भंडार को दवा की सप्लाई देना बंद कर दिया है। इस कारण उपभोक्ता भंडार की दवा की दुकानों पर दवाओं की कमी बनी हुई है। रोगियों को जरूरी दवाएं नहीं मिल रही है।

31 अक्टूबर तक देनी होगी दवा
राजस्थान राज्य सहकारी उपभोक्ता संघ लिमिटेड कनफेड ने प्रदेशभर में आदेश जारी किए हैं। इसके तहत महाप्रबंधक ने जिला उपभोक्ता होलसेल भंडार बूंदी को आदेश जारी किए हैं। जिसमे कहा है कि जिन पेंशनरों के आरजीएचएस कार्ड नहीं बने हैं। उनको 31 अक्टूबर तक भंडार की ओर से दवा दी जाएगी।

नियम ही स्पष्ट नहीं
गौरतलब है कि आरजीएचएस कार्ड से उपभोक्ता भंडार पर पेंशनर को दवा वितरण को लेकर भी नियम पूरी तरह से स्पष्ठ नहीं है। पेंशनर डायरी में राशि समाप्त होने पर राशि बढ़ेगी या नहीं। दवा कैसे मिलेगी सहित कई समस्याएं पेंशनरों के सामने खड़ी है। लेकिन कोई इसका समाधान नहीं कर रहा है।

पेंशनर को समय पर दवाइयां उपलब्ध हो इसके लिए एक प्रतिनिधिमंडल जिला कोष अधिकारी से मिला। समय पर भुगतान किए जाने की बात कहीं। एक-दो दिन में भुगतान हो जाएगा और सभी दवाइयां उपलब्ध होगी।

रामेश्वर मीणा, पेंशनर समाज, जिला महामंत्री बूंदी।

खबरें और भी हैं...