रिश्ते तार-तार:मामा अपनी भांजी को लेकर फरार, रुपए-जेवर भी ले गया

बूंदीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आरोपी मामा ने मोबाइल बंद कर दिए, बेटी की मां ने थाने में कहा-अब किस पर विश्वास करें

तालेड़ा उपखंड क्षेत्र के एक गांव से 18 वर्षीय युवती को उसका मामा नवरात्रा स्थापना के दिन लेकर फरार हो गया, जिनकी अब तक कहीं काेई सुराग नहीं लगा है। बेटी की मां जगह-जगह रिश्तेदारों और परिचितों के पास जाकर तलाशती रही। बदनामी के डर से 6 दिन तक पुलिस थाने में कोई मामला दर्ज नहीं कराया।

मामा-भांजी का कहीं सुराग नहीं लगने पर आखिरकार बेटी की मां ने बुधवार को थाने में जाकर आपबीती सुनाई और कार्रवाई करने की गुहार की।आरोपी मामा अपनी सगी बड़ी बहन के यहां 3 साल से रह रहा था और पुताई का काम करता था। बेटी की मां ने अपनी पीड़ा बताते हुए कहा कि 7 अक्टूबर को मजदूरी करने पास के गांव गई थी। गरीबी की हालत होने के कारण पति व बेटा भी दूसरे गांव में काम कर रहे हैं। घटना के दिन घर पर सिर्फ दो बेटियां व आरोपी भाई था। साड़ी के फॉल लगवाने का बहाना कर सगा मामा बेटी को बहला-फुसलाकर भगा ले गया। जाते समय घर में रखे 10 हजार रुपए, सोने का मंगलसूत्र व चांदी की पायजेब भी ले गया।

शाम को घर लौटने पर छोटी बेटी ने बताया कि मामा दीदी को भगाकर ले गया। यह सुनकर बेटी की मां विश्वास नहीं हुआ और उसने जगह-जगह दोनों की तलाश शुरू की। पिछले 5-6 दिन से बेटी की मां अपने रिश्तेदारों में पीहर पक्ष व ससुराल पक्ष के जुड़े परिवारों में बेटी व भाई को तलाशती रही, लेकिन कोई सुराग नहीं लगा। आरोपी मामा ने मोबाइल बंद कर दिए हैं। फरार होने से पहले बहन के सभी जरूरी आईडी व कागजात भी साथ ले गया। पीड़िता का कहना है कि अब किस पर विश्वास किया जाएगा। जब भाई मेरी बेटी को भगा कर ले गया और रिश्ते सारे तार-तार कर दिए। पुलिस ने घटनाक्रम में जांच-पड़ताल शुरू की है।

खबरें और भी हैं...