50 साल से फरार स्थाई वारंटी गिरफ्तार:तीन मामलों में चल रहा था वांटेड, जगह-जगह नाम बदलकर काटी फरारी, भीलवाड़ा से पकड़ा

बुंदी25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस गिरफ्त में स्थाई वारंटी। - Dainik Bhaskar
पुलिस गिरफ्त में स्थाई वारंटी।

लूट नकबजनी आगजनी जैसे अपराध करने के बाद उम्र दराज हो चुके बुजुर्ग वांछित स्थाई वारंटी को पकड़ने में पुलिस को कामयाबी मिली है। दबलाना थाना पुलिस 50 साल के वारंटी को शुक्रवार को भीलवाड़ा जिले से पकड़ कर ले आई है। पुलिस ने वारंटी को न्यायालय में पेश किया, जहां से जेल भेज दिया गया है।

थानाप्रभारी रामेश्वर प्रसाद ने बताया कि दबलाना थाना क्षेत्र के बंजारा की झोपड़िया निवासी वांछित स्थाई वारंटी कजोड़ बंजारा (68) को भीलवाड़ा जिले के कुड़ी गांव बड़लियावास थाना क्षेत्र से शुक्रवार को गिरफ्तार किया। स्थाई वारंटी कजोड़ अपने कई नाम की पहचान बनाकर भीलवाड़ा जिले के कुड़ी गांव में रह रहा था। वहां पर उसने अपना एक अलग आधार कार्ड भी बना लिया। जिसमें उम्र भी कम लिखवाई गई है, ऐसे में उसकी पहचान करना बहुत मुश्किल हो रहा था।

थानाप्रभारी ने बताया कि कजोड़ के खिलाफ लूट, नकबजनी व आगजनी के तीन मामले दबलाना थाने में दर्ज है। साल 1974 में आरोपी गांव से फरार हो गया। उसकी फरारी के बाद गांव में कई परिवारों ने भी पलायन कर लिया था। पुलिस ने अभियान के तहत जब इसका भीलवाड़ा जिले में पलायन करना सामने आया तो पहचान करना मुश्किल हो गया था इसी दौरान बंजारा समाज के बुजुर्गों से पंचायत बुलाकर इसकी पहचान करवाई गई। आरोपी कजोड़ ने फरारी के दौरान पुलिस से बचने के लिए कई नाम बदले। जिनमें मोती, गोमा, गेमा जैसे नाम से पहचान बना ली थी। उसके खिलाफ न्यायालय एसीजेएम ने स्थाई वारंट जारी किया था।