• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bundi
  • Was Going To Study In Madrasa As Usual, While Crossing NH 52, Roadways Bus Hit, Underpass Not Built In Populated Area

बस की टक्कर से 7 साल की बच्ची की मौत:रोजाना की तरह मदरसे में पढ़ने जा रही थी, NH-52 क्रॉस करते समय रोडवेज बस की चपेट में आई, आबादी क्षेत्र में नहीं बनाया गया अंडरपास

बूंदी7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतका जोया। - Dainik Bhaskar
मृतका जोया।

जिले के हिंडौली थाना क्षेत्र के तालाब गांव में बुधवार को एक 7 साल की बच्ची नेशनल हाईवे-52 को क्रॉस करते समय बस की चपेट में आ गई। हादसे में उसकी मौके पर ही मौत हो गई। जोया रोजाना की तरह मदरसे में पढ़ने जा रही थी। इस दौरान वह बस की चपेट में आ गई। सूचना के बाद हिंडोली थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को जिला अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया। जहां पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया। हिंडोली पुलिस ने बस ड्राइवर के खिलाफ मामला दर्ज कर बस को जब्त कर जांच शुरू कर दी है। जोया दो भाइयों के बीच इकलौती बहन थी।

जोया के ताऊ सलीम ने बताया कि मेरे भाई शरीफ की बेटी जोया मदरसे में पढ़ने के लिए हाइवे क्रॉस कर रही थी। इस दौरान बूंदी की ओर से आ रही रोडवेज बस की चपेट में आने से मौत हो गई। सलीम ने कहा कि आबादी के बीच में नेशनल हाईवे-52 में कहीं अंडर पास नहीं है। दोनों और रोड एक दूसरे से ऊपर नीचे हैं। ऐसे में यहां अक्सर हादसे होते रहते हैं और कई बार जनहानि हो चुकी है।

पूर्व सरपंच हनीफ मोहम्मद ने बताया कि नेशनल हाईवे-52 के निर्माण कार्य के समय गांव के लोगों ने हाईवे पर अंडरपास बनाने की मांग रखी थी, लेकिन इस मांग की अनदेखी कर दी गई। आबादी में बने हाईवे पर अंडरपास नहीं होने से बड़ोदिया की ओर जाने वाले 1 दर्जन से अधिक गांव के लोग रॉन्ग साइड में करीब 700 मीटर चलते हैं। उसके बाद गांव का रास्ता मिलता है। गांव के एक तिहाई परिवार रोड की दूसरी ओर बसे हुए हैं।

खबरें और भी हैं...