बाल विवाह निषेध अभियान:बाल विवाह के दुष्परिणाम बताए टीकाकरण के लिए किया जागरूक

छबड़ा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देश पर गुरुवार को न्यायालय परिसर में बाल विवाह निषेध अभियान, कोरोना टीकाकरण लगवाने को लेकर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित कया। इस दौरान तालुका विधिक सेवा समिति अध्यक्ष एडीजे प्रीति नायक, एसीजेएम राजेशकुमार मीणा, पैनल अधिवक्ता हेमंतकुमार पारीक व भंवरसिंह जादौन मौजूद थे। तालुका विधिक सेवा समिति सचिव हनुमान मीणा ने बताया कि शिविर में बाल विवाह रोकथाम, बाल विवाह के दुष्परिणामों को लेकर लोगों को जागरूक किया। एडीजे प्रीति नायक ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए मास्क पहनना चाहिए, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना है। किसी को खांसी और बुखार महसूस हो तो डॉक्टर से सलाह ले। जागरूकता अभियान में एडीजे प्रीति नायक ने मास्क वितरित किए।

खबरें और भी हैं...